NDTV Khabar

Burari case: जब उत्तर प्रदेश के अमेठी में मिले थे 11 शव, ये हैं दिल्ली के बुराड़ी जैसे तीन मामले

बुराड़ी केस ने देश-दुनिया को दहला है. भारत में बुराड़ी केस जैसे गिने-चुने मामले ही सामने आए हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Burari case: जब उत्तर प्रदेश के अमेठी में मिले थे 11 शव, ये हैं दिल्ली के बुराड़ी जैसे तीन मामले

Burari News: देश में पहले भी बुराड़ी केस जैसे कई दिल दहलाने वाले मामले सामने आए हैं.

खास बातें

  1. बुराड़ी केस अभी तक सुलझ नहीं पाया है
  2. ठीक इसी तरह की घटना उत्तर प्रदेश के अमेठी में हुई थी
  3. देहरादून और सूरत में भी हो चुके हैं ऐसे मामले
नई दिल्ली:

दिल्ली के बुराड़ी में एक ही परिवार के 11 सदस्यों की रहस्यमय हालत में मिले शवों की गुत्थी अभी सुलझी नहीं है.  पूरा मामला हत्या और आत्महत्या के बीच उलझा है. हालांकि पुलिस का मानना है कि सभी 11 लोगों की मौत की पीछे कोई एक शख्स था और उसी ने परिवार के सभी सदस्यों को फांसी लगाने के लिए तैयार किया था. पुलिस का कहना है कि इस बात के सबूत हैं कि परिवार के सभी लोगों को यकीन था कि वो लोग मरेंगे नहीं बल्कि पापा (12 साल पहले मर चुके भगवान दास) उन्हें बचा लेंगे. घर से जो डायरी बरामद हुई है उसके आधार पर पुलिस ने बताया कि इन मौतों के पीछे 77 साल की नरायणी देवी का बेटा ललित था. पुलिस ललित को इस मास सुसाइड का मास्टरमाइंड मान रही है. बहरहाल, बुराड़ी केस ने देश-दुनिया को दहला है. भारत में बुराड़ी केस जैसे गिने-चुने मामले ही सामने आए हैं, जिसने लोगों का ध्यान खींचा हो. आइये आपको इसी तरह के दिल दहला देने वाले कुछ मामलों के बारे में बताते हैं. 


उत्तर प्रदेश के अमेठी में भी मिले थे 11 शव : 
उत्तर प्रदेश के अमेठी में पिछले साल जनवरी में दिल्ली के बुराड़ी जैसा दिल दहला देने वाला डरावना मामला सामने आया था. अमेठी के महोना गांव में एक ही परिवार के 11 लोगों के शव बरामद हुए थे. परिवार के मुखिया जमालुद्दीन का शव फांसी के फंदे से लटकता मिला, जबकि बाकी 10 सदस्यों के शवों का गला रेता हुआ था.  मरने वालों में से आठ बच्चे, दो महिलाएं व एक पुरुष शामिल थे. इस दहला देने वाली घटना ने सभी का ध्यान अपनी तरफ खींचा था. पहले आशंका जताई जा रही थी कि परिवार के मुखिया ने सभी को नशीला पदार्थ खिलाने के बाद उनका गला काट डाला और उसके बाद खुद फांसी लगाकर जान दे दी. उत्तर प्रदेश पुलिस ने जोर-शोर से इस मामले की जांच शुरू की, लेकिन आजतक इस घटना का पर्दाफाश नहीं हो पाया है.  


यह भी पढ़ें : उत्तर प्रदेश के अमेठी में एक ही परिवार के मुखिया समेत 11 लोगों के शव मिले

देहरादून में एक साथ मिले थे 10 शव : 
उत्तराखंड के देहरादून में भी वर्ष 2011 में दिल्ली के बुराड़ी केस जैसा ही एक मामला सामने आया था. यहां एक ही परिवार के 10 सदस्यों के शव मिले थे. देहरादून के ढकरानी पावर हाउस के इंटेक से 4 अक्टूबर को पहले 6 बच्चों और 2 महिलाओं के शव मिले. पुलिस मामले की जांच कर ही रही थी कि कुछ ही दूरी पर करीब 60 वर्षीय वृद्धा बेहोशी की हालत में पाई गई थी. होश आने पर उसने पुलिस को बताया कि उसके साथ एक और बेटी व दामाद भी थे. पुलिस ने आगे जांच की तो अगले दिन अगले दिन वृद्धा के दामाद का शव टी एस्टेट स्थित एक पेड़ से लटका मिला. जबकि, पुत्री का शव शक्ति नहर से ही बरामद हो गया. उस समय एक ही परिवार के 10 सदस्यों का शव एक साथ बरामद होने के बाद देशभर में सनसनी फैल गई थी. अब घटना को 7 साल हो गए हैं, लेकिन अभी तक इस 'डेथ मिस्ट्री' के कारणों का ठीक पता नहीं चल पाया है. 

बुराड़ी कांड : 11 लोगों की मौत का सबसे बड़ा सच? क्या सिर्फ इस शख्स के चलते उठा लिया गया 'बड़ तपस्या' का कदम

गुजरात के सूरत में एक ही परिवार के तीन सदस्यों ने कर ली थी आत्महत्या : 
सूरत के सरथाणा क्षेत्र में इसी साल एक ही परिवार के तीन लोगों की कथित आत्महत्या का दिल दहला देने वाला मामला सामने आया था. पुलिस के मुताबिक मजेस्टिका हाइट्स निवासी परिवार के तीन सदस्यों ने बिल्डिंग की 12वीं मंजिल से छंलाग लगा दी थी. जिसमें उनकी जान चली गई. पुलिस को छानबीन में एक सुसाइड नोट भी मिला था. जिसके मुताबिक परिवार कर्ज से परेशान था और कर्ज चुकता न कर पाने की वजह से कथित तौर पर जान दे दी. इस मामले ने भी बुराड़ी केस की ही तरह सभी का ध्यान खींचा था. 

टिप्पणियां

बुराड़ी मौतें : परिवार के 10 लोगों ने फांसी पर लटकने के लिए 5 स्टूल्स को शेयर किया- पुलिस, 10 बातें

VIDEO: बड़ी खबर : दिल्ली के बुराड़ी में 11 मौतों की सुलझती गुत्थी



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement