NDTV Khabar

पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में पुल की रेलिंग तोड़कर नहर में गिरी बस, 4 की मौत   

पुलिस के आने में कथित तौर पर देरी के कारण लोगों ने प्रदर्शन किया और गुस्साए लोगों ने पुलिस बल पर हमला कर दिया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में पुल की रेलिंग तोड़कर नहर में गिरी बस, 4 की मौत   

हादसे वाली जगह पर सबसे पहले स्थानीय लोग पहुंचे और उन्होंने राहत-बचाव अभियान शुरू किया...

खास बातें

  1. पुलिस के पहुंचने में देरी से नाराज लोगों ने किया प्रदर्शन
  2. गुस्साए लोगों ने पुलिस बल पर हमला कर दिया
  3. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने किया मुआवजे का ऐलान
बहरमपुर (पश्चिम बंगाल): पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले में एक यात्री बस के पुल की रेलिंग तोड़कर नहर में गिरने से कम से कम 4 लोगों की मौत हो गई और 7 अन्य घायल हो गए. पुलिस के आने में कथित तौर पर देरी के कारण लोगों ने प्रदर्शन किया और गुस्साए लोगों ने पुलिस बल पर हमला कर दिया. सबसे पहले स्थानीय लोगों ने ही राहत और बचाव अभियान शुरू किया था.

यह भी पढ़ें : राजस्थान में निजी बस के नदी में गिरने से सात महिलाओं सहित 33 लोगों की मौत

लोगों ने पुलिस के एक वाहन में आग भी लगा दी. स्थानीय लोगों ने पुलिस के वाहन में लगी आग पर काबू पाने के लिए घटनास्थल पर पहुंची एक दमकल गाड़ी को भी नुकसान पहुंचाया. पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए लाठीचार्ज भी किया. घटना के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए पुलिस ने बताया कि नहर से दो शव बरामद किए गए हैं और 2 लोगों ने अस्पताल में दम तोड़ दिया. 

यह भी पढ़ें : नदी में गिरी यात्रियों से भरी बस, 14 की मौत

उन्होंने बताया कि 7 घायलों को मुर्शिदाबाद मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पुलिस ने बताया कि यह हादसा दौलताबाद थाना क्षेत्र अन्तर्गत बलीरघाट में सुबह 6 बजे हुआ. बस नदिया जिले के शिकारपुर से मालदा जा रही थी. स्थानीय लोगों ने दावा किया कि बस में करीब 50-60 यात्री सवार थे. हालांकि, बस में यात्रा करने वाले यात्रियों की संख्या के बारे में कोई भी अधिकारिक आंकड़ा जारी नहीं किया गया है.

टिप्पणियां
VIDEO : यात्रियों से भरी बस टोंस नदी में गिरी 


मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कोलकाता में कहा है कि वह घटनास्थल पर जा रही हैं. ममता ने बताया कि यात्रियों को बचाने के लिए सभी प्रयास किए जा रहे हैं. उन्होंने हादसे में मरने वालों के परिवार वालों को 5 लाख रुपये, जबकि गंभीर रूप से घायलों को एक लाख रुपये का मुआवजा देने की घोषणा की. उन्होंने बताया कि अन्य घायल लोगों को 50,000 रुपये का मुआवजा दिया जाएगा. बचाव अभियान पर नजर रखने के लिए जिलाधिकारी, एसपी और अन्य वरिष्ठ पुलिस अधिकारी घटनास्थल पर मौजूद हैं. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement