NDTV Khabar

चीन के खिलाफ देश भर में व्यापारियों का विरोध प्रदर्शन - चीनी सामान की जलाई होली 

प्रदर्शन के दौरान दिल्ली के सदर बाजार के बारा टूटी चौक पर हजारों व्यापारियों, लघु उद्यमिओं, हॉकर्स, उपभोक्ताओं आदि ने चीन के बने सामान का एक टीला बनाकर उसकी होली जलाई और चीन के खिलाफ नारे भी लगाए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नई दिल्ली:

चीन के खिलाफ व्यापारियों के संगठन कॉन्फ़ेडरेशन ऑफ़ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के आवाहन पर दिल्ली सहित देश भर के विभिन्न राज्यों में व्यापारी संगठनो ने 1500 से अधिक स्थानों पर चीनी सामानों की होली जलाई गई. इस दौरान चीन के बने सामान का बहिष्कार करने का संकल्प भी लिया. बता दें कि व्यापारियों का विरोध प्रदर्शन चीन द्वारा संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में चौथी बार मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित करने पर वीटो का उपयोग करने को ध्यान में रखकर किया गया है. प्रदर्शन के दौरान दिल्ली के सदर बाजार के बारा टूटी चौक पर हजारों व्यापारियों, लघु उद्यमिओं, हॉकर्स, उपभोक्ताओं आदि ने चीन के बने सामान का एक टीला बनाकर उसकी होली जलाई और चीन के खिलाफ नारे भी लगाए. साथ ही व्यापारियों ने चीन को चेतावनी देते हुए फ़ौरन भारत में पाकिस्तान द्वारा चलाई जा रही आतंकी गतिविधियों में पाक की मदद करना बंद करने की बात भी कही.

इस बॉलीवुड प्रोड्यूसर ने दी चेतावनी, लिखा- एक दिन चीन को भी निगल जाएगा हाफिज सईद और उसका गैंग...


प्रर्दशनकारी व्यापारी अपने हाथों में पत्तियां लिए हुए थे जिन पर लिखा था " भारत को सोने की चिड़िया बनाना है - अब चीन को बाजार से हटाना है ", " पाक समर्थक चीन को सबक-चीनी सामान का बहिष्कार ", " चीन से बने सामान को खरीदना या बेचना - अपने जवानों का उत्साह कम करना ", "चीनी सामान का बहिष्कार -तोड़ेगा चीन की आर्थिक कमर " जैसे पट्टियों द्वारा अपने रोष और आक्रोश का प्रदर्शन कर रहे थे .

कुमार विश्वास बोले- आतंकियों के इस 'फूफा' को अब सबक सिखाना होगा

कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष  बी.सी.भरतिया और राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने एनडीटीवी से कहा की चीन की पाकिस्तान समर्थक करतूतों से देश के व्यापारी बेहद नाराज़ हैं.  परोक्ष रूप से चीन भारत में आतंकी गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए पाकिस्तान की मदद करता है.  उन्होंने सरकार से मांग की की अब चीन को सबक सिखाने की बेहद जरूरत है और उसके लिए चीन से हो रहे व्यापार पर कुछ आर्थिक प्रतिबन्ध लगाने चाहिए .

टिप्पणियां

चीन ने मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित होने में डाला रोड़ा, तो भारत ने दिया यह बयान

उन्होंने कहा की चीन से ज्यादातर सामान में खिलोने, त्योहारी वस्तुएं, इलेक्ट्रॉनिक्स, मोबाइल, हार्डवेयर, कुछ वस्तुओं का रॉ मटेरियल, बिजली का सामान, दैनिक उपयोग की वस्तुएं आदि ज्यादातर आयात होती हैं. इनमें बहुत अधिक तकनीक नहीं होती है. सस्ता होने के कारण उपभोक्ता चीन का माल खरीदता है. यदि देश के घरेलू व्यापार को थोड़ा बढ़ावा और पैकेज दिया जाए तो हम चीन से अच्छा माल कम दाम पर बना सकते हैं. सरकार इस के लिए एक पैकेज की घोषणा करे जिससे देश के व्यापारी और उद्यमी चीनी माल का मुकाबला कर सकें. उनका मानना है की चीन से आयात होने वाली वस्तुओं पर कम से कम 300 % से लेकर 500 % प्रतिशत की कस्टम ड्यूटी लगा देनी चाहिए जिससे चीन से आयात होने वाले सामान में कमी आए.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement