मध्य प्रदेश में भी CAA और NRC का विरोध, 52 में से 44 जिलों में धारा 144 लगी

कांग्रेस नेता राहुल गांधी भले ही धारा 144 को आवाज़ दबाने की कोशिश मानें लेकिन कांग्रेस शासित मध्यप्रदेश के ही 52 जिलों में से 44 में प्रशासन ने एहतियातन धारा 144 लगा दी है.

मध्य प्रदेश में भी CAA और NRC का विरोध, 52 में से 44 जिलों में धारा 144 लगी

मध्य प्रदेश के 52 जिलों में से 44 में धारा 144 लगा दी गई है

भोपाल:

कांग्रेस नेता राहुल गांधी भले ही धारा 144 को आवाज़ दबाने की कोशिश मानें लेकिन कांग्रेस शासित मध्यप्रदेश के ही 52 जिलों में से 44 में प्रशासन ने एहतियातन धारा 144 लगा दी है. वहीं खंडवा जिले में नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में जो प्रदर्शन हुआ उसमें पथराव के बात पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को तितर बितर करने के लिये बल प्रयोग किया,सरकार का कहना है कि एहितयातन 144 का प्रयोग किया है ताकि बीजेपी कार्यकर्ता राज्य में अशांति ना फैलाएं.

बनारस में प्रदर्शनकारियों पर बरसी लाठियां, CAA और NRC का कर रहे थे विरोध

मध्यप्रदेश के खंडवा में ईदगाह मैदान नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन हुआ, आंदोलन खत्म होने के बाद कुछ लड़कों ने नारेबाजी शुरू कर दी. इमलीपुरा से बड़ा बम की ओर जुलूस जैसे ही पहुंचा तो पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की तभी पथराव शुरू हो गया. खंडवा एसपी शिवदयाल सिंह ने कहा पूरे शहर में कहीं कोई घटना नहीं हुई हैं, शांति से लोग अपने घर चले गए हैं पूरे शहर में शांति है. सुरक्षा की दृष्टि से चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात किया गया है. 

ममता बनर्जी की मांग- NRC और CAA पर हो जनमत संग्रह, UN करे निगरानी

राज्य के 52 जिलों में से 44 में धारा 144 लगा दी गई है, सरकार का कहना है आशंका प्रदर्शन से नहीं, बीजेपी से है. वहीं बीजेपी ने 144 का स्वागत किया है और कहा है कि आरोपों से उसे फर्क नहीं पड़ता. जनसंपर्क मंत्री पी सी शर्मा ने कहा जितने माफियाओं पर अटैक हुआ है कमलनाथ की सरकार ने किया है, ये (बीजेपी) जगह जगह दूसरी चीजों में घुसकर अपने आप को बचाना चाहते हैं लेकिन कोई बचेगा नहीं. नसे जब सवाल पूछा गया कि क्या आपका शक बीजेपी पर है तो शर्मा ने कहा हां वो ऐसा कर सकते हैं.

Newsbeep

CAA पर बवाल : उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद और बरेली में इंटरनेट सेवा पर रोक  

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वहीं बीजेपी प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने कहा प्रदेश सरकार ने धारा 144 लगाई है, तो हम उसका स्वागत करते हैं, कांग्रेस सरकार के मंत्री क्या कह रहे हैं उसका कोई मतलब नहीं है क्योंकि उनको ध्यान ही नहीं है वो क्या कर रहे हैं और क्या कह रहे हैं. नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में बुधवार को कांग्रेस के पू्र्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और विधायक आरिफ मसूद ने भोपाल के इकबाल मैदान में प्रदर्शन की अगुवाई की थी, तो सोमवार को लोकतांत्रिक अधिकार मंच के बैनर तले मंगलवार को कानून लागू करवाने को लेकर बीजेपी ने प्रदर्शन किया था.