CAA Protests: बुलंदशहर में हुई हिंसा के हर्जाने के रूप में मुस्लिम समुदाय ने सरकार को सौंपा 6 लाख रुपये का चेक

पश्चिमी उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में मुस्लिम समुदाय के प्रबुद्ध लोगों ने जिला प्रशासन को बीते सप्ताह नमाज के बाद शहर में हुई हिंसा से हुए नुकसान की भरपाई के रूप में 6 लाख रुपये से अधिक का चेक सौंपा है.

CAA Protests: बुलंदशहर में हुई हिंसा के हर्जाने के रूप में मुस्लिम समुदाय ने सरकार को सौंपा 6 लाख रुपये का चेक

CAA Protests: नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा के लिए सरकार को सौंपा चेक.

खास बातें

  • मुस्लिम समुदाय के लोगों ने सरकार को दिया हर्जाना
  • हिंसा में हुए नुकसान की छह लाख रुपये देकर की भरपाई
  • मुजफ्फरनगर के मौलानाओं ने हिंसा के लिए मांगी माफी
नई दिल्ली:

पश्चिमी उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में मुस्लिम समुदाय के प्रबुद्ध लोगों ने जिला प्रशासन को बीते सप्ताह नमाज के बाद शहर में हुई हिंसा से हुए नुकसान की भरपाई के रूप में 6 लाख रुपये से अधिक का चेक सौंपा है. उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा जारी किए गए वीडियो और प्रेस रिलीज में यह जानकारी दी गई है. प्रेस रिलीज में यह भी कहा गया है कि मुजफ्फरनगर के मौलानाओं ने हिंसा के लिए माफी मांगी है. बुलंदशहर से सरकार द्वारा भेजे गए वीडियो और तस्वीरों में मुस्लिम पुरुषों के एक समूह को सरकारी अधिकारियों को 6.27 लाख रुपये का डिमांड ड्राफ्ट सौंपते देखा जा सकता है.

CAA को लेकर हिंसा पर बोले CM योगी, उपद्रवियों की संपत्ति जब्त कर करेंगे नुकसान की भरपाई

सरकार का कहना है कि पिछले शुक्रवार को बुलंदशहर में हुई हिंसा में प्रशासन का एक वाहन जल गया था और कई वाहन क्षतिग्रस्त हो गए थे. पुलिस ने मामले में तीन एफआईआर दर्ज की हैं, जिसमें हिंसा के लिए 22 लोगों को नामजद किया गया है और इसमें 800 अज्ञात लोग भी शामिल हैं. पार्षद हाजी अकरम अली ने एक वीडियो बयान में कहा, 'पूरे समुदाय ने एकजुट होकर फंड में योगदान दिया. हमने इसे पूरे समुदाय से टोकन के रूप में सरकार को सौंप दिया.

उत्तर प्रदेश में आगजनी और तोड़फोड़ पर एक्शन में योगी सरकार, भेज रही वसूली के नोटिस

बता दें कि 19 से 21 दिसंबर के बीच राज्य के कई हिस्सों में हिंसा भड़की थी, जिसमें 21 प्रदर्शनकारियों के मारे जाने का दावा किया गया. कई शवों में बंदूक की गोली के घाव थे, लेकिन पुलिस ने जोर देकर कहा कि उन्होंने प्लास्टिक की गोलियों और रबर की गोलियों के अलावा और कुछ इस्तेमाल नहीं किया है. पुलिस ने सिर्फ बिजनौर में गोली लगने से 20 वर्षीय एक युवक की मौत की बात स्वीकारी है.

बता दें कि यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि राज्य में सरकारी संपत्ति को जिसने नुकसान पहुंचाया है उसकी संपत्ति जब्त की जाएगी और इसी संपत्ति को बेचकर इस नुकसान की भरपाई की जाएगी. उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों की पहचान की जा रही है. योगी आदित्यनाथ ने विपक्षी पार्टियों पर राज्य में हिंसा फैलाने का आरोप भी लगाया है. उन्होंने कहा कि इन पार्टियों ने राजनीति की रोटी सेंकने के चक्कर में महाबंदी के नाम पर पूरे देश को आगजनी में झोंकने का काम किया है.

VIDEO: उत्तर प्रदेश में जिसने हिंसा की उसकी प्रॉपर्टी होगी जब्त : योगी आदित्यनाथ

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com