NDTV Khabar

मिमी चक्रवर्ती ने NDTV से बातचीत में खोला राज- क्यों अचानक राजनीति में आ गईं...

सांसद नुसरत जहां ने NDTV से कहा- बंगाल वायलेंस के खिलाफ है, सिर्फ पॉलिटिकल ग्राउंड पर ही नहीं मानवता के लिहाज से भी, मिमी चक्रवर्ती (Mimi Chakraborty) ने कहा वायलेंस बंगाल की संस्कृति नहीं

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मिमी चक्रवर्ती ने NDTV से बातचीत में खोला राज- क्यों अचानक राजनीति में आ गईं...

तृणमूल कांग्रेस की मिमी चक्रवर्ती और नुसरत जहां पहली बार सांसद बनी हैं.

खास बातें

  1. मिमी ने कहा- ममता बनर्जी प्रेरणादायक व्यक्तित्व और फाइटर हैं
  2. भगवान का नाम लेकर होने वाले वायलेंस को हम सपोर्ट नहीं करते
  3. बुधवार को दोनों सांसदों ने लोकसभा में अपने-अपने मुद्दे उठाए
नई दिल्ली:

पहली बार सांसद बनीं तृणमूल कांग्रेस (TMC) की मिमी चक्रवर्ती (Mimi Chakraborty) ने राजनीति में पदार्पण को लेकर NDTV से कहा कि 'दीदी (ममता बनर्जी) ने कहा तो ठीक लगा. मैंने फैमिली से विचार विमर्श किया. दीदी ने मम्मी को आश्वासन दिया कि जो भी होगा अच्छा होगा. हालांकि लोगों ने कहा कि करियर के पीक में यह अच्छा नहीं होगा. लेकिन सोचा यंग जनरेशन भी आगे आए और लोगों के लिए काम करे.' मिमी चक्रवर्ती ने कहा कि लोग उन्हें हर बात पर ट्रोल करते हैं लेकिन जनता का आशीर्वाद उनके साथ है.

उन्होंने कहा कि '18 साल की उम्र में पहला वोट भी TMC को ही दिया था, दीदी को ही दिया था. वे बहुत प्रेरणादायक व्यक्तित्व हैं. दीदी फाइटर हैं, उनका जोश भी बहुत अच्छा लगता है.'

स्क्रूटनी को लेकर मिमी (Mimi Chakraborty) ने कहा कि 'हम चप्पल पहनकर आते हैं तो ट्रोल होते हैं, जींस पहनकर आते हैं तो भी ट्रोल होते हैं. सलवार पहनते हैं तब भी होते हैं, कुछ बोलते हैं, तब भी होते हैं. नहीं बोलते हैं, तब भी होते हैं. तो हमें पता है स्क्रूटनी क्या चीज़ है. लोग हमें बहुत निशाना बनाते हैं, मगर जिन्होंने वोट दिया है उनका आशीर्वाद हमारे साथ है.'


पश्चिम बंगाल के राजनीतिक हालात पर मिमी (Mimi Chakraborty) ने कहा कि 'बाहर से सिचुएशन गरम कर देना आसान बात है लेकिन हम बंगाल में रहते हैं, बसते हैं, मैंने वायलेंस वहां देखा नहीं है, मगर भगवान का नाम लेकर जो वायलेंस होता है इसको हम सपोर्ट नहीं कर सकते.  वायलेंस बंगाल का कल्चर नहीं है. बंगाल का रिच कल्चर रहा है.'

TMC सांसद मिमी चक्रवर्ती और नुसरत जहां ने शपथ लेने के एक दिन बाद ही संसद में उठाया यह मुद्दा

पहली बार चुनी गईं तृणमूल कांग्रेस की ही दूसरी सांसद नुसरत जहां (Nusrat jahan) ने NDTV से कहा कि 'फिजिक्स की थ्योरी है कि बाहर से कोई आदमी जब एक्शन नहीं होने देता तब रिएक्शन नहीं मिलता है. किसी को वायलेंस नहीं चाहिए. बंगाल के लोग सिंपल लोग हैं...वे अपना भोजन पसंद करते हैं. वे आफिस से लौटकर घर जाना पसंद करते हैं. इस सिंपल लाइफ़ को डिस्टर्ब करने के लिए यदि सिचुएशन बनाई जाती है तो हमारी यही कोशिश रहेगी कि बंगाल में शांति हो. बंगाल वायलेंस के खिलाफ है, सिर्फ पॉलिटिकल ग्राउंड पर ही नहीं मानवता के लिहाज से भी.'

संसद के बाहर आपा खो बैठीं नुसरत जहां और मिमी चक्रवर्ती, कहा- 'धक्‍का मत दो'

आपको बता दें कि नुसरत जहां (Nusrat jahan) और मिमी चक्रवर्ती (Mimi Chakraborty) पहली बार सांसद बनीं हैं. नुसरत बशीरहाट से चुनाव जीती हैं और मिमी चक्रवर्ती जादवपुर से सांसद बनी हैं. इन दोनों सांसदों ने मंगलवार को संसद में शपथ ली. दरअसल, अपनी शादी की वजह से नुसरत पहले शपथ नहीं ले पाईं थीं. उनकी दोस्‍त और सांसद मिमी भी शादी में शरीक हुईं थीं. इसके चलते वह भी शपथ ग्रहण समारोह में शरीक नहीं हो पाईं थीं.

VIDEO : नुसरत और मिमी ने संसद सदस्य पद की शपथ ग्रहण की

टिप्पणियां

अभिनेत्री से सांसद बनीं तृणमूल कांग्रेस (TMC) की मिमी चक्रवर्ती (Mimi Chakraborty) और नुसरत जहां (Nusrat jahan) ने बुधवार को संसद में अपना पहला मुद्दा उठाया. मिमी चक्रवर्ती ने यातायात जाम से निपटने के लिए अपने निर्वाचन क्षेत्र जादवपुर में एक फ्लाईओवर के निर्माण की मांग की, जबकि नुसरत ने पश्चिम बंगाल में अपने क्षेत्र बशीरहाट में एक केंद्रीय विद्यालय खोलने की मांग की.



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement