यह ख़बर 22 जून, 2014 को प्रकाशित हुई थी

कैंपा कोला निवासियों ने डाले हथियार, बीएमसी काट सकेगा बिजली-पानी का कनेक्शन

मुंबई:

फ्लैट खाली कराने को लेकर तीन दिन से जारी गतिरोध के बाद कैंपा कोला परिसर के निवासियों ने मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण के हस्तक्षेप के बाद आज अपने प्रतिरोध को त्यागते हुए कहा कि वे नगर निगम अधिकारियों के साथ सहयोग करेंगे।

मुख्यमंत्री से मिलने गए प्रतिनिधिमंडल में शामिल कैंपा कोला परिसर निवासी आशीष जालान ने कहा कि निवासी अब बृहन्न मुंबई नगर निगम (एमसीएजएम) को बाधित नहीं करेंगे और निगम अधिकारियों को कल परिसर के अंदर जाने की इजाजत देंगे। निगम गैर कानूनी फ्लैटों को लेकर सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन कर रहा है।

जालान ने कहा, 'चव्हाण ने हमें आश्वासन दिया कि वह हमारी 67,000 वर्ग फुट की अनुमति योग्य एफसीआई की मांग पर गौर करेंगे। उन्होंने हमसे अदालती आदेशों का पालन करने को कहा है। उन्होंने कहा कि वह सकारात्मक रूप से हमारी मांग पर विचार करेंगे और मामले से जुड़े अधिकारियों से राय लेंगे। इस आश्वासन के साथ हम व्यवस्था के साथ सहयोग करने के लिए पहला कदम उठा रहे हैं, ताकि हमें पुनर्विकास का अधिकार मिल सके।'

जालान के अनुसार मुख्यमंत्री ने आज दोपहर उनसे मिलने गए निवासियों से कहा कि मानवतावादी सरोकारों के बावजूद सुप्रीम कोर्ट के आदेश के कारण राज्य का हस्तक्षेप संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि निवासी निगम अधिकारियों से मिलेंगे और उनसे कहेंगे कि परिसर के गैर कानूनी फ्लैटों में आवश्यक सेवाएं काटने का काम किया जाए।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com