कनाडा के रक्षामंत्री 'खालिस्तान के प्रति हमदर्दी' रखते हैं, उनसे नहीं मिलूंगा : अमरिंदर सिंह

कनाडा के रक्षामंत्री 'खालिस्तान के प्रति हमदर्दी' रखते हैं, उनसे नहीं मिलूंगा : अमरिंदर सिंह

अमरिंदर सिंह ने हाल ही में पंजाब के मुख्यमंत्री पद को एक बार फिर संभाला है

चंडीगढ़:

कनाडा के रक्षामंत्री हरजीत सज्जन को 'खालिस्तानी हमदर्द' बताते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि वह उनके (सज्जन के) प्रस्तावित भारत दौरे पर उनसे मुलाकात नहीं करेंगे. एक निजी चैनल के कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने हरजीत सज्जन पर आरोप लगाते हुए कहा कि 'वह और उनके पिता दोनों ही खालिस्तानी समर्थक हैं.' अमरिंदर सिंह ने दावा किया कि 'जस्टिन ट्रूडो की सरकार में ऐसे पांच मंत्री हैं जो खालिस्तानी समर्थक हैं और मेरा उनमें से किसी से भी संपर्क रखने का इरादा नहीं है.'

वहीं गोमांस के मुद्दे पर पंजाब मुख्यमंत्री ने कहा कि लोगों को अपने मर्ज़ी के मुताबिक खाना खाने का हक होना चाहिए. उन्होंने यह भी साफ किया कि वह पाकिस्तानी कलाकारों पर लगने वाले प्रतिबंध के खिलाफ हैं और वह उन्हें पंजाब आमंत्रित करना चाहेंगे और मौका मिलने पर खुद भी पाकिस्तान दोबारा जाना चाहेंगे.

इसके अलावा उन्होंने नई दिल्ली को चीन से सावधान रहने की सलाह देते हुए कहा कि वक्त आ गया है कि पाकिस्तान के साथ संबंधों को सुधारा जाए. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के बारे में बात करते हुए अमरिंदर सिंह ने कहा कि जनता को उन्हें एक मौका देना चाहिए. अमरिंदर सिंह का कहना था कि कुछ लोगों की सोची समझी रणनीति के तहत राहुल गांधी के खिलाफ मोर्चा चलाया जा रहा है.

अमरिंदर सिंह ने माना की हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी ने एक अच्छी टक्कर दी थी. लेकिन मुख्यमंत्री पद के लिए किसी पंजाबी को न चुन पाने का खामियाज़ा पार्टी को भुगतना पड़ा. ईवीएम में कथित गड़बड़ी के मुद्दे पर चुनाव आयोग के पक्ष में अपनी राय व्यक्त करते हुए कहा कि - अगर ईवीएम में गड़बड़ी हुई होती तो मैं मुख्यमंत्री नहीं होता. अकाली दल सत्ता में होती.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com