मुंबई: उद्धव ठाकरे के खिलाफ ‘आपत्तिजनक’ टिप्पणी करने वाले को पीटे जाने के संबंध में मामला दर्ज

हिरामणि तिवारी की शिवसेना के कथित समर्थकों ने रविवार को उनके वडाला ट्रक टर्मिनस स्थित घर पर पिटाई की थी और जबरन उन्हें गंजा कर दिया था.

मुंबई: उद्धव ठाकरे के खिलाफ ‘आपत्तिजनक’ टिप्पणी करने वाले को पीटे जाने के संबंध में मामला दर्ज

शिवसेना प्रमुख और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (फाइल फोटो)

खास बातें

  • हिरामणि के साथ मार-पीट करने वाले शिवसैनिकों के खिलाफ हुआ मामला दर्ज
  • मामले के राजनीतिक रंग पकड़ता देख पुलिस को लेना पड़ा एक्शन
  • मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के खिलाफ की थी आपत्तिजनक पोस्ट
मुंबई:

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के खिलाफ सोशल मीडिया पर एक पोस्ट लिखने वाले शख्स की पिटाई करने के आरोप में शिवसेना के कुछ समर्थकों के खिलाफ बुधवार को मामला दर्ज हुआ है. हालांकि घटना का वीडियो उपलब्ध होने के बावजूद तीन दिन के बाद भी कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है. बता दें, हिरामणि तिवारी की शिवसेना के कथित समर्थकों ने रविवार को उनके वडाला ट्रक टर्मिनस स्थित घर पर पिटाई की थी और जबरन उन्हें गंजा कर दिया था. मुख्यमंत्री द्वारा दिल्ली के जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय में छात्रों के खिलाफ पुलिस की कार्रवाई को जलियांवाला बाग नरसंहार से जोड़ने के खिलाफ तिवारी ने पोस्ट किया था. 

मुंबई : युवक का मुंडन करने वाले शिवसैनिकों के खिलाफ मामला दर्ज करने को तैयार हुई पुलिस

इस पोस्ट के बाद कथित तौर पर कुछ शिवसैनिकों ने तिवारी के साथ मार-पीट की थी. तिवारी के साथ मार-पिटाई का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था. इसके बाद विपक्षी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) शिवसेना पर हावी हो गई थी और उसने राज्य में पुलिस व्यवस्था को लेकर सरकार की जमकर आलोचना की थी. भाजपा द्वारा आलोचना किए जाने के बाद शिवसेना की ने भी इसका जवाब दिया था. शिवसेना की ओर से विधायक आदित्य ठाकरे ने मोर्चा संभाला और भाजपा को जवाब देते हुए कहा था कि उन्हें इस तरह की बातों पर ध्यान देने के बजाय राज्य में हो रहे विकास कार्यों को देखना चाहिए.

महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने इस अंदाज में की एनसीपी प्रमुख की तारीफ, कहा- शरद पवार से सीखा कि...

हालांकि मामले को राजनीतिक रंग पकड़ता देख पुलिस तिवारी के साथ मार-पीट करने वालों के खिलाफ मामला दर्ज करने के लिए तैयार हो गई थी, लेकिन तब नाराज तिवारी ने अपना बयान दर्ज कराने से इंकार कर दिया था. उसका कहना था कि वो अपना बयान पहले ही दे चुका है. इस बीच बीजेपी ने शिवसेना की दादागिरी के खिलाफ पुलिस थाने में जाकर आरोपियों को तुरंत गिरफ्तार करने की मांग की थी. अब एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि मामला दर्ज कर लिया गया है. हालांकि इस संबंध में अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है.

Newsbeep

VIDEO : शिवसैनिकों ने सार्वजनिक अपमान किया

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)