Budget
Hindi news home page

कैमरे में कैद : लातूर में 'नैतिकता के ठेकेदारों' ने बेरहमी से पीटा लड़का-लड़की को

ईमेल करें
टिप्पणियां
कैमरे में कैद : लातूर में 'नैतिकता के ठेकेदारों' ने बेरहमी से पीटा लड़का-लड़की को
लातूर: महाराष्ट्र के लातूर शहर में मोरल पुलिसिंग (Moral Policing) का एक मामला सामने आया है, जहां एक लड़के और लड़की को कुछ लोगों ने सिर्फ इसलिए पकड़कर पीट डाला, क्योंकि वे एक साथ टहल रहे थे।

NDTV को 30 दिसंबर, 2014 का एक वीडियो मिला है, जिसमें कुछ लोग एक लड़के और लड़की को बुरी तरह पीट रहे हैं। घटना लातूर के अंकोली गांव की है। घटना जिस इलाके की है, वहां जंगल भी है और अक्सर लड़के-लड़कियां सुनसान-सा इलाका होने के कारण वहां टहलने पहुंच जाते हैं। जब यह जोड़ा वहां था, कुछ लोगों ने उन्हें घेरकर लड़की से शिनाख्त की मांग की, और उसके बाद दोनों को बुरी तरह पीटा गया। पिटाई के बाद लड़की ठीक से चल भी नहीं पा रही थी।

----------------------------------------------

देखें वीडियो

----------------------------------------------

बताया जाता है कि वारदात के समय 25-30 लोग मौजूद थे, लेकिन सब चुपचाप खड़े रहे। यह वीडियो हमलावरों ने ही शूट किया है। यह हरकत जिन लोगों ने की है, उनके इस इलाके में खेत बताए जाते हैं। हमलावरों पर भारतीय दंड संहिता की धारा 395 के तहत मामला लातूर के मुरुड पुलिस थाने में दर्ज़ किया गया है, और इस सिलसिले में तीन लोगों को पकड़ लिया गया है, जबकि तीन अन्य फरार हैं। बताया गया है कि ये लोग एक संगठन से भी जुड़े हैं, जिसका नाम 'गनिमी कावा' है।

इस बीच, इस मामले का संज्ञान लेते हुए राज्य महिला आयोग ने कहा है कि मामले की जांच महिला डिप्टी एसपी स्तर की अधिकारी करे, और रिपोर्ट आयोग को भेजे। इसके अलावा आयोग का कहना है कि मोबाइल क्लिप इंटरनेट पर वायरल कराने वालों पर आईटी एक्ट की धाराओं के तहत मामले दर्ज किए जाने चाहिए।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement