क्या इनकम टैक्स अधिकारी आपके सोशल मीडिया की जासूसी करते हैं, पढ़ें- CBDT प्रमुख का जवाब

अगर आपको लगता है कि आयकर अधिकारी आपकी अघोषित आय की जांच के लिए सोशल मीडिया पोस्ट की जासूसी करते हैं, उनके विदेशों में घूमने और महंगी खरीदारी की फोटो पर निगरानी रखते हैं, तो यह गलत धारणा है. 

क्या इनकम टैक्स अधिकारी आपके सोशल मीडिया की जासूसी करते हैं, पढ़ें- CBDT प्रमुख का जवाब

सीबीडीटी के चेयरमैन पी. सी. मोदी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली :

अगर आपको लगता है कि आयकर अधिकारी आपकी अघोषित आय की जांच के लिए सोशल मीडिया पोस्ट की जासूसी करते हैं, उनके विदेशों में घूमने और महंगी खरीदारी की फोटो पर निगरानी रखते हैं, तो यह गलत धारणा है. केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) के चेयरमैन पी. सी. मोदी का यह कहना है. मोदी ने एक साक्षात्कार के दौरान कहा कि कर विभाग को इस तरह के तौर-तरीके अपनाने की जरूरत नहीं, क्योंकि विभाग के पास बड़े लेनदेन से जुड़े आंकड़े विभिन्न एजेंसियों से आते हैं और उसके पास आंकड़ों का विश्लेषण करने की एक सुदृढ़ व्यवस्था है. इस वजह से ऐसे लेनदेन के स्रोत और जगह की जानकारी उसे मिल जाती है. उन्होंने यह बात इससे संबंधित एक सवाल के जवाब में कही.

बजट 2019 : सीबीडीटी ने कहा- आर्थिक संपन्न लोगों से राष्ट्र निर्माण में ज्यादा योगदान की उम्मीद

उनसे पूछा गया था कि क्या कर अधिकारी या आयकर विभाग लोगों के फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम या अन्य सोशल मीडिया हैंडल पर निगरानी रखते हैं ताकि उनकी आय से जुड़ी गोपनीय जानकारी या उनके खर्च के तौर-तरीकों पर नजर रखी जा सके. कई मीडिया रपटों में कहा गया है कि आयकर अधिकारी सोशल मीडिया पर लोगों की महंगी विदेश यात्रा या महंगी गाड़ियां दिखाने वाली फोटो पर नजर रखते हैं और देखते हैं कि ये लोग अपना सही कर चुका रहे हैं या नहीं. इस पर मोदी ने कहा, ‘यह एक गलत धारणा है. हमें वहां (सोशल मीडिया मंचो) जाने की जरूरत ही क्या है.' सीबीडीटी आयकर विभाग के लिए नीतियां बनाने वाला शीर्ष निकाय है.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com