NDTV Khabar

मुश्किल में कांग्रेस की मेघालय सरकार: 7 MLA के इस्‍तीफे के बाद, PWD मंत्री के खिलाफ CBI ने दर्ज किया केस

मेघालय में सत्‍तारूढ़ कांग्रेस की सरकार की मुश्किलें बढ़ गई है. सात विधायकों के इस्‍तीफे के बाद सीबीआई ने मेघालय के पीडब्ल्यूडी मंत्री अंपरीन लिंगदोह और राज्य के अतिरिक्त मुख्य सचिव पी एस थांगखिव के खिलाफ शिक्षकों की नियुक्ति में कथित गड़बड़ी को लेकर मामला दर्ज किया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मुश्किल में कांग्रेस की मेघालय सरकार: 7 MLA के इस्‍तीफे के बाद, PWD मंत्री के खिलाफ CBI ने दर्ज किया केस

सीबीआई ने मेघालय के पीडब्‍ल्‍यू मंत्री के खिलाफ दर्ज किया केस (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. पीडब्ल्यूडी मंत्री अंपरीन लिंगदोह के खिलाफ केस दर्ज
  2. शिक्षक नियुक्ति की प्रक्रिया के दौरान अंकपत्र की कथित हेरफेर का मामला
  3. यह मामला वर्ष 2008-09 का है
नई दिल्ली: मेघालय में सत्‍तारूढ़ कांग्रेस की सरकार की मुश्किलें बढ़ गई है. सात विधायकों के इस्‍तीफे के बाद सीबीआई ने मेघालय के पीडब्ल्यूडी मंत्री अंपरीन लिंगदोह और राज्य के अतिरिक्त मुख्य सचिव पी एस थांगखिव के खिलाफ शिक्षकों की नियुक्ति में कथित गड़बड़ी को लेकर मामला दर्ज किया है. यह मामला वर्ष 2008-09 में शिक्षकों की नियुक्ति की प्रक्रिया के दौरान अंकपत्र की कथित हेरफेर करने से संबंधित है. 

मेघालय में कांग्रेस को जोरदार झटका, पार्टी के 5 विधायकों ने छोड़ा 'हाथ' का साथ

सीबीआई के एक अधिकारी ने बताया कि एजेंसी ने मेघालय हाईकोर्ट के आदेश पर यह कार्रवाई की है. कथित गड़बड़ी के समय शिक्षा मंत्री रहे लिंगदोह और शिक्षा विभाग के तत्कालीन प्रधान सचिव और 1984 बैच के आईएएस अधिकारी के खिलाफ आपराधिक साजिश रचने, धोखाधड़ी और अन्य आरोपों को लेकर आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है.

पूर्वोत्तर में रेल और सड़कों के लिए सरकार ने खोला थाा खजाना, पीएम मोदी ने की बड़ी घोषणाएं - 10 बातें

थांगखिव अभी अतिरिक्त सचिव हैं और उनके पास गृह जैसा अहम विभाग है. मेघालय में इस साल की पहली तिमाही में चुनाव होना है. एजेंसी ने प्राथमिकी में प्राथमिक एवं जन शिक्षा विभाग के निदेशालय एवं अज्ञात लोगों को भी आरोपी बनाया है.

टिप्पणियां
मेघालय हाईकोर्ट ने दो नवंबर, 2017 को सीबीआई को इस मामले को राज्य पुलिस से अपने हाथ में लेने का निर्देश दिया था. आरोप है कि लिंगदोह ने उस समय प्राथमिक और जन शिक्षा की निदेशक जे डी संगमा और उनकी दो समर्थकों को अंकपत्र में छेड़छाड़ करने और उसके साथ धोखाधड़ी करने का आरोप लगाया था.

VIDEO: पशु खरीद बिक्री पर रोक के खिलाफ मेघालय विधानसभा में प्रस्ताव जून में हुआ था पास 
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement