1,400 करोड़ रुपये के धोखाधड़ी मामले में ‘क्वालिटी लिमिटेड’ के ठिकानों पर CBI की छापेमारी

Bank of India-led consortium में कैनरा बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, कॉरपोरेशन बैंक, आईडीबीआई, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, धन लक्ष्मी बैंक और सिंडिकेट बैंक भी शामिल हैं

1,400 करोड़ रुपये के धोखाधड़ी मामले में ‘क्वालिटी लिमिटेड’ के ठिकानों पर CBI की छापेमारी

डेयरी उत्पाद कंपनी ‘क्वालिटी लिमिटेड और उसके निदेशकों के ठिकानों पर छापे मारे गए

खास बातें

  • बैंक ऑफ इंडिया नीत कंसोर्टियम से की गई धोखाधड़ी
  • क्‍वालिटी लिमिटेड और इसके 8 डायरेक्‍टरों के यहां मारे छापे
  • कंपनी, इसके चार निदेशकों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया
नई दिल्‍ली:

केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने बैंक ऑफ इंडिया नीत सहायता संघ से कथित धोखाधड़ी कर उसे करीब 1,400 करोड़ रुपये का नुकसान पहुंचाने की आरोपी दिल्ली की डेयरी उत्पाद कंपनी ‘क्वालिटी लिमिटेड' और उसके निदेशकों के आठ ठिकानों पर सोमवार को छापे मारे.अधिकारियों ने बताया कि सीबीआई ने क्वालिटी लिमिटेड और इसके निदेशकों संजय ढींगरा, सिद्धांत गुप्ता, अरुण श्रीवास्तव के अलावा अन्य अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है.सीबीआई के प्रवक्ता आरके गौड़ ने कहा, ‘‘शिकायत में आरोप लगाया गया है कि आरोपियों ने बैंक ऑफ इंडिया के नेतृत्व वाले सहायत संघ को करीब 1400.62 करोड़ रुपये का चूना लगाया. 

पूर्व सांसद और बाहुबली अतीक अहमद के घर और दफ्तर पर CBI ने की छापेमारी

इस सहायता संघ में कैनरा बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, कॉरपोरेशन बैंक, आईडीबीआई, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, धन लक्ष्मी बैंक और सिंडिकेट बैंक भी शामिल हैं.''गौड़ ने बताया कि बैंकों से राशि लेकर इसे दूसरे मद में खर्च कर, संबंधित पक्षों से फर्जी लेन-देन दिखाकर, फर्जी दस्तावेज/रसीद और गलत बहीखाते के जरिए कथित धोखाधड़ी की गई और फर्जी संपत्ति एवं देनदारी आदि दिखाई गई. सीबीआई ने कंपनी और आरोपियों के दिल्ली, उत्तर प्रदेश के सहारनपुर एवं बुलंदशहर, राजस्थान के अजमेर और हरियाणा के पलवल सहित आठ ठिकानों की तलाशी ली.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Yes बैंक के संस्थापक राणा कपूर पर CBI ने दर्ज किया केस



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)