NDTV Khabar

CBSE पेपर लीक मामला : दो बैंक कर्मी और एक महिला सहित चार गिरफ्तार

ऊना की यूनियन बैंक की शाखा का मैनेजर शेरूराम, हेड कैशियर ओम प्रकाश, टीचर राकेश और उसकी एक महिला रिश्तेदार गिरफ्तार

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
CBSE पेपर लीक मामला : दो बैंक कर्मी और एक महिला सहित चार गिरफ्तार

पुलिस की गिरफ्त में सीबीएसई पेपर लीक मामले में पकड़े गए आरोपी.

खास बातें

  1. बैंक कर्मियों ने 12वीं इकोनॉमिक्स के पेपर का बंडल दिया था
  2. शिक्षक राकेश ने वहां से 10वीं गणित का पेपर भी उठा लिया था
  3. रिश्तेदार महिला ने राकेश को प्रिंसिपल बनवाने का लालच दिया था
नई दिल्ली:

सीबीएससी 10वीं क्लास के मैथ्स के पेपर लीक मामले में चार आरोपियों की गिरफ्तारी की गई है. इनमें ऊना की यूनियन बैंक की शाखा के मैनेजर शेरूराम, बैंक का हेड कैशियर ओम प्रकाश, ऊना में ही पेशे से टीचर राकेश और उसकी एक महिला रिश्तेदार को फिरोजाबाद से गिरफ्तार किया गया है. 

पुलिस के मुताबिक, 12वीं इकोनॉमिक्स के पेपर लीक के आरोपी राकेश ही दोनों मामले का आरोपी है. पुलिस की मानें तो, राकेश को बैंक मैनेजर शेरुराम और हेड कैशियर ओमप्रकाश ने लॉकर से 12वीं क्लास का इकोनॉमिक्स के पेपर का बंडल निकालकर दिया था. राकेश ने वहां से 10वीं के गणित का पेपर भी उठा लिया था.

यह भी पढ़ें : ऐसे हुआ था CBSE 12वीं का इकोनॉमिक्स का पेपर लीक, तीन गिरफ्तार

इसके बाद राकेश ने कार में बैठकर दोनों पेपरों की अपने मोबाइल में फ़ोटो खींची और गणित के पेपर का पहले प्रिंटआउट निकलवाया, फिर अपने एक स्टूडेंट से उस प्रश्नपत्र को हाथ से लिखवाया.


टिप्पणियां

VIDEO : ऊना जिले से तीन गिरफ्तार

इसके बाद उस हैंड रिटन पेपर को अपनी एक रिश्तेदार जो कि फिरोजपुर में रहती है, को व्हाट्सऐप पर भेज दिया. इसी महिला ने गणित के पेपर को आगे सर्क्यूलेट कर दिया. जांच में पता चला है कि महिला ने राकेश को प्रिंसिपल बनवाने का लालच दिया था, जिसके चलते राकेश ने ऐसा किया.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement