NDTV Khabar

वोटर कार्ड को आधार से जोड़ना चाहते हैं, नई तकनीकी के साथ फूंक-फूंक कर कदम रखने की जरूरत : सीईसी

ओपी रावत ने कहा, 'आयोग की रेगुलर मीटिंग होती रहती है. ये नई टेक्नोलॉजी है. हम चाहेंगे की जो तरह-तरह के रिस्क हैं उनको कैसे रोक सकते हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
वोटर कार्ड को आधार से जोड़ना चाहते हैं, नई तकनीकी के साथ फूंक-फूंक कर कदम रखने की जरूरत : सीईसी

मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत

खास बातें

  1. डाटा चोरी होने के विवाद से बीच बोले सीईसी
  2. मुख्य चुनाव आयुक्त ने की है एनडीटीवी से बात
  3. वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का भी है विचार
नई दिल्ली: फेसबुक का डाटा चोरी होने की खबरों के बीच मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत ने कहा है कि नई तकनीकी के साथ फूंक-फूंक कर कदम रखने की जरूरत है. फेसबुक का डाटा चोरी कर चुनाव प्रभावित करने की खबरों पर उन्होंने कहा, 'हम जानकारी इकट्ठा कर रहे हैं कि क्या रिस्क हैं, उनको कैसे रोका जा सकता है. मीटिंग बुला रहे हैं'. 

ओपी रावत ने कहा, 'आयोग की रेगुलर मीटिंग होती रहती है. ये नई टेक्नोलॉजी है. हम चाहेंगे की जो तरह-तरह के रिस्क हैं उनको कैसे रोक सकते हैं. मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि वो लोगों को जानकारी देना जारी रखेंगे. सोशल मीडिया पॉलिसी जारी रहेगी और अभी तक राजनीतिक पार्टियों की ओर से कोई शिकायत नहीं आई है.  इसके साथ ही रावत ने यह भी कहा कि वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने चाहते हैं लेकिन आधार को अनिवार्य करना ज़रूरी नहीं है. 

टिप्पणियां
गौरतलब है कि फेसबुक के पांच करोड़ सदस्यों से जुड़ी जानकारियों का दुरुपयोग करने का आरोप कैंब्रिज एनालिटिका पर लगा है. इस पर सूचना प्रौद्योगिक मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि कैंब्रिज एनालिटिका ने चुनावों को हनी ट्रैप और फेक न्‍यूज से प्रभावित करने की कोशिश की है. कैंब्रिज एनालिटिका भारत, नाइजीरिया जैसे देशों में काम किया और हम प्रेस की आजादी का पूरा समर्थन करते हैं. मैं कानून और आईटी मंत्री के तौर पर कह रहा हूं कि सोशल मीडिया जिसमें फ़ेसबुक शामिल है का दुरुपयोग कर चुनावों को प्रभावित करने को न तो हम टॉलरेट करेंगे और न ही मंजूरी देंगे.

वहीं कांग्रेस ने बुधवार को डेटा विश्लेषक कंपनी कैंब्रिज एनलिटिका से संबंध होने से इंकार किया और भारतीय जनता पार्टी पर वर्ष 2010 में इस कंपनी से सेवा लेने का आरोप लगाया. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा, "कांग्रेस और इसके अध्यक्ष ने कभी भी कैंब्रिज एनलिटिका (सीए) की सेवा नहीं ली है." 
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement