मायावती ने आर्थिक मंदी के खतरे से केंद्र को चेताया, कहा- इसे गंभीरता से ले सरकार

मायावती ने ट्वीट कर कहा, ''व्यापारी वर्ग भी काफी दुःखी व परेशान है. छंटनी आदि के उपायों के बाद वे आत्महत्या करने के लिए मजबूर हो रहे हैं.''

मायावती ने आर्थिक मंदी के खतरे से केंद्र को चेताया, कहा- इसे गंभीरता से ले सरकार

बसपा सुप्रीमो मायावती

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने शनिवार को केंद्र सरकार को देश में बढ़ रही आर्थिक मंदी के खतरे के बारे में चेताया है. उन्होंने कहा कि देश में आर्थिक मंदी है और केंद्र सरकार को इसे गंभीरता से लेना चाहिए. मायावती ने ट्वीट कर कहा, ''देश में व्यापक बेरोजगारी, गरीबी, महंगाई, अशिक्षा, तनाव/हिंसा आदि की चिन्ताओं के बीच अब आर्थिक मन्दी का खतरा है, जिससे देश पीड़ित है. व्यापारी वर्ग भी काफी दुःखी व परेशान है. छंटनी आदि के उपायों के बाद वे आत्महत्या करने के लिए मजबूर हो रहे हैं. केन्द्र इसे पूरी गंभीरता से ले.''

BSP प्रमुख मायावती बोलीं- सरकार जम्मू कश्मीर के निवासियों की भलाई का दावा कर रही है, मगर...

इससे पहले गुरुवार को मायावती ने 73वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा लाल किले की प्राचीर से दिए गए सम्बोधन पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये कहा कि प्रधानमंत्री का अपने भाषण में देश भर में छाई खासकर व्यापक गरीबी, महंगाई, बेरोजगारी और अशिक्षा के साथ-साथ हिंसा, तनाव और जातिवादी द्वेष जैसे मुद्दों का कोई जिक्र ना करना यह साबित करता है कि देश की आम जनता के जीवन में बेहतर बदलाव की आशा बहुत कम है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने स्वतंत्रता दिवस और रक्षाबंधन के अवसर पर देशवासियों को बधाई दी

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि ज्यादातर सरकारी घोषणाएं और दावे कागजी ही नजर आते हैं. जमीन पर कुछ भी नहीं दिखाई देता. इससे देश का भला कैसे हो सकता है. प्रधानमंत्री अपने भाषण में इन मुद्दों के साथ साथ देश में भयमुक्त वातावरण बनाने के बारे में भी कुछ बोलते तो अच्छा होता. (इनपुट-एजेंसी)