केंद्र भारत के हिस्से का पानी पाकिस्तान में जाने से रोकने के लिए काम कर रहा : गडकरी

बंटवारे के मुताबिक तीन नदियों का पानी पाकिस्तान के लिए आरक्षित था जबकि बाकी तीन नदियों के पानी का इस्तेमाल भारत को करना था

केंद्र भारत के हिस्से का पानी पाकिस्तान में जाने से रोकने के लिए काम कर रहा : गडकरी

प्रतीकात्मक फोटो.

अहमदाबाद:

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने रविवार को कहा कि पाकिस्तान में बह रहीं ''अखंड भारत'' की छह में से तीन नदियों का भारत के हिस्से का पानी वहां जाने से रोकने को लेकर केंद्र सरकार काम कर रही है. उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर, पंजाब, राजस्थान, दिल्ली, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश को यह पानी मिलेगा.

महाराष्ट्र के नागपुर से गुजरात भाजपा की जन संवाद डिजिटल रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि भारत अहिंसा और शांति में विश्वास करता है. गडकरी ने कहा, '' अखंड भारत में छह नदियां (जो कि भारत और पाकिस्तान दोनों देशों से गुजरती हैं) थीं. बंटवारे के मुताबिक, तीन नदियों का पानी पाकिस्तान के लिए आरक्षित था जबकि बाकी तीन नदियों के पानी का इस्तेमाल भारत को करना था. हमारे हिस्से का पानी भी पाकिस्तान में बह रहा है.''

उन्होंने कहा कि अब केंद्र सरकार भारत के हिस्से का पानी पाकिस्तान में जाने से रोकने के लिए काम कर रही है.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com