केंद्र सरकार ने महाराष्ट्र, ओड़िशा तथा पंजाब में तीन राजमार्ग परियोजनाओं को मंजूरी दी

केंद्र सरकार ने महाराष्ट्र, ओड़िशा तथा पंजाब में तीन राजमार्ग परियोजनाओं को मंजूरी दी

प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर...

नई दिल्‍ली:

केंद्र सरकार ने महाराष्ट्र, ओड़िशा तथा पंजाब में तीन राजमार्ग परियोजनाओं को आज मंजूरी दे दी। इन परियोजनाओं के क्रियान्वयन में 5,965 करोड़ रुपये की लागत आएगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति (सीसीईए) ने महाराष्ट्र में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-211 के औरंगाबाद-तेलवाडी खंड, ओड़िशा में एनएच 42 (नया एनएच 55) के अंगुल-संबलपुर खंड तथा पंजाब में एनएच-344ए के फगवाड़ा-रूपनगर खंड के चौड़ीकरण से जुड़ी परियोजनाओं को मंजूरी दे दी।

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने एक बयान में कहा, 'मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति ने महाराष्ट्र में एनएच-211 के औरंगाबाद-तेलवडी खंड को चार लेन का बनाए जाने को मंजूरी दे दी। इस पर 2028.91 करोड़ रुपये की लागत आने का अनुमान है, जिसमें जमीन अधिग्रहण, पुनर्वास तथा पुनर्स्थापना शामिल है। इसकी कुल लंबाई 87 किलोमीटर है। इसका निर्माण डिजाइन, बनाओ, वित्त, चलाओ और सौंप दो के आधार पर होगा।'

ओड़िशा में 2491.53 करोड़ रुपये की लागत से एनएच 42 (नया एनएच 55) के अंगुल-संबलपुर खंड का चौड़ीकरण किया जाएगा। विकसित किए जाने वाली सड़क की कुल लंबाई 151 किलोमीटर है। इसका निर्माण इंजीनियरिंग, प्राक्योरमेंट तथा निर्माण (ईपीसी) आधार पर होगा।

Newsbeep

बयान के अनुसार, पंजाब में 1,444.42 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से एनएच-344ए के फगवाड़ा-रूपनगर खंड को चार लेन का बनाया जाएगा। इस परियोजना की कुल लंबाई 80.82 किलोमीटर है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)