कोरोना का खौफ : केंद्र सरकार के सभी मंत्रालयों और विभागों में यह कदम उठाया गया...

ऐसा पाया गया है कि इस वायरस के फैलने का सबसे आम तरीका है किसी संक्रमित चीज को छूना. इसलिए यह वांछनीय है कि ऐसी चीजों को न छुआ जाए जो कि किसी और के छूने की वजह से संक्रमित हो सकते हैं.

कोरोना का खौफ : केंद्र सरकार के सभी मंत्रालयों और विभागों में यह कदम उठाया गया...

देश में अब तक कोरोना वायरस के 31 मरीज सामने आ चुके हैं

नई दिल्‍ली:

भारत में भी जानलेवा कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्र सरकार ने अपने सभी मंत्रालयों और विभागों में कर्मचारियों के बायोमेट्रिक अटेंडेंस (Biometric Attendance) पर तत्‍काल रोक लगा दी है. यह रोक 31 मार्च तक जारी रहेगी. सरकार द्वारा जारी दिशानिर्देश में कहा गया है कि 'हालांकि हमारे देश में कोरोना वायरस (COVID-19) के कुछ ही मामले सामने अए हैं लेकिन वायरस की प्रकृति को देखते हुए यह आवश्‍यक है कि इसके फैलाव को रोकने के लिए सभी एहतियाती उपाय किए जाएं.

ऐसा पाया गया है कि इस वायरस के फैलने का सबसे आम तरीका है किसी संक्रमित चीज को छूना. इसलिए यह वांछनीय है कि ऐसी चीजों को न छुआ जाए जो कि किसी और के छूने की वजह से संक्रमित हो सकते हैं.

ये देखते हुए सभी मंत्रालयों/विभागों को निवेदन है कि वो अपेन कर्मचारियों को बायोमेट्रिक अटेंडेंस से 31 मार्च 2020 तक छूट दें. हालांकि सभी कर्मचारियों को रजिस्‍टर में अपनी अटेंडेंस दर्ज करनी होगी जैसा कि बायोमेट्रिक सिस्‍टम के शुरू होने से पहले हुआ करता था.

gpu3tdig

दिल्ली में 1 और मामले की पुष्टि, आंकड़ा 31 पहुंचा
राष्ट्रीय राजधानी में शुक्रवार को कोरोनावायरस संक्रमण के एक और नए मामले की पुष्टि हुई है. इसके साथ ही देश में सीओवीआईडी-19 से संक्रमित लोगों की कुल संख्या बढ़कर 31 हो गई है. स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने इस बात की जानकारी दी. स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है, "एक संदिग्ध मामले में सीओवीआईडी-19 से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है." मंत्रालय ने कहा, "देश में कोरोनावायरस संक्रमण के नए मामले में मरीज दिल्ली का निवासी पाया गया है. मरीज ने पूर्व में थाईलैंड और मलेशिया की यात्रा की थी. हालांकि, मरीज की स्थिति स्थिर है और उसकी निगरानी की जा रही है." इसके अलावा, 31 मामलों में से केरल के तीन पहले सामने आए मामलों में मरीजों को उपचार और पूर्ण रूप से स्वस्थ होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई.

अतिरिक्त तौर पर दिल्ली-एनसीआर में तीन मामलों की पुष्टि हुई है, जिसमें से एक ने पूर्व में इटली और अन्य ने ईरान की यात्रा की थी. कथित तौर पर एक जन्मदिन पार्टी में कोरोनावायरस से संक्रमित दिल्ली के पहले मरीज के संपर्क में आने से आगरा के छह लोगों को संक्रमण हुआ था. तेलंगाना से भी एक मामले की पुष्टि हुई है. संक्रमित व्यक्ति ने दुबई की यात्रा की थी, जहां वह सिंगापुर से संक्रमित एक व्यक्ति के संपर्क में आया था. मंत्रालय ने यह भी कहा है कि सभी मरीजों की हालत स्थिर है और सभी की निगरनी की जा रही है.

VIDEO: एम्स के डॉक्टर आलोक ठक्कर ने कहा- कोरोना से बचें, डरें नहीं