NDTV Khabar

मंत्रियों के लिए ट्रैफिक और फ्लाइट रोकी जाए तो कोई बुराई नहीं : केंद्रीय मंत्री उमा भारती

5 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
मंत्रियों के लिए ट्रैफिक और फ्लाइट रोकी जाए तो कोई बुराई नहीं : केंद्रीय मंत्री उमा भारती

केंद्रीय मंत्री उमा भारती...

नई दिल्ली: नरेंद्र मोदी सरकार में मंत्री उमा भारती ने नेताओं और अधिकारियों के वीवीआईपी कल्चर का बचाव किया है. उन्होंने सरकारी गाड़ियों से लालबत्ती हटाने के पंजाब सरकार के फैसले को गैर-जरूरी बताया है. सोमवार को उन्होंने कहा कि मंत्रियों के लिए कुछ देर फ्लाइट और ट्रैफिक रोकना कोई बड़ा मुद्दा नहीं है. मेरा मानना है कि अगर कोई मंत्री सरकारी ड्यूटी पर जा रहा है तो उसे लालबत्ती का फायदा मिलना चाहिए. जरूरी मीटिंग में शामिल होने के लिए अगर फ्लाइट भी 5-7 मिनट तक रोकना पड़े तो कोई बुराई नहीं है. क्योंकि मीटिंग चूकने पर यह लंबे वक्त के लिए टल जाती है और जनता का करोड़ों रुपये बरबाद होता है. वहीं उन्होंने कहा कि निजी दौरे वीआईपी सुविधा नहीं दी जानी चाहिए.

पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ट्वीट किया था, ''हमारी कैबिनेट ने वीआईपी कल्चर खत्म करने का फैसला किया। किसी मंत्री, विधायक और ब्यूरोक्रेट्स की सरकारी गाड़ी पर कोई बत्ती नहीं होगी.'' इसके कुछ घंटे बाद ही अमरिंदर और कई मंत्रियों ने खुद अपनी सरकारी गाड़ी से बत्तियां हटवा दी थीं.

उल्लेखनीय है कि पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपनी पहली कैबिनेट मीटिंग में वीआईपी कल्चर खत्म करने का फैसला लिया. अब राज्य के किसी भी सरकारी गाड़ी पर लाल, पीली और नीली बत्तियां नहीं लगाई जाएंगी. यह गैर-कानूनी होगा और जुर्माना भी लगाया जाएगा.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement