बजट के अनुसार राजकोषीय घाटे के लक्ष्य को पूरा करने में सक्षम नहीं होगा केंद्र : सरकारी सूत्र

केंद्रीय वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मौजूदा वित्‍त वर्ष के लिए बजट पेश करते हुए राजकोषीय घाटे को जीडीपी के साढ़े तीन प्रतिशत तक रखने की बात कही थी.

बजट के अनुसार राजकोषीय घाटे के लक्ष्य को पूरा करने में सक्षम नहीं होगा केंद्र  : सरकारी सूत्र

प्रतीकात्‍मक फोटो

नई दिल्ली:

सरकार राजकोषीय घाटे (Fiscal deficit) को सकल घरेलू उत्‍पाद (GDP) के 3.5 फीसदी तक रखने के लक्ष्‍य को हासिल नहीं कर पाएगी. सरकारी सूत्रों ने NDTV से बात करते हुए यह जानकारी दी. गौरतलब है कि केंद्रीय वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मौजूदा वित्‍त वर्ष के लिए बजट पेश करते हुए राजकोषीय घाटे को जीडीपी के साढ़े तीन प्रतिशत तक रखने की बात कही थी.

सूत्रों ने कहा, अभी यह नहीं कहा जा सकता है कि राजकोषीय घाटा 'कितना बड़ा' होगा. अगस्‍त माह के सरकार के आंकड़े बताते हैं कि भारत का राजकोषीय घाटा वर्ष 2020-21 के वार्षिक लक्ष्‍य को पार कर गया है. जुलाई माह के अंत में राजकोषीय घाटा 8.21 लाख करोड़ रुपये थे जो इस वित्‍त वर्ष के बजटीय लक्ष्‍य को 103.1 प्रतिशत है.सूत्रों ने यह भी बताया कि सरकार एक और आर्थिक प्रोत्‍साहन पैकेज पर काम कर रही है.

Newsbeep

RBI ने नहीं किया रेपो रेट में बदलाव

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com