NDTV Khabar

पुलिस, सुरक्षा बलों के वाहनों को लाल, नीली और सफेद बत्ती लगाने की अनुमति

केंद्र ने कानून एवं व्यवस्था की स्थिति बनाए रखने के लिए ड्यूटी पर तैनात पुलिस, रक्षा और अर्धसैन्य बलों समेत आपातकालीन वाहनों को लाल, नीली और सफेद रंग की बत्ती के इस्तेमाल करने की मंजूरी दे दी है.

14 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
पुलिस, सुरक्षा बलों के वाहनों को लाल, नीली और सफेद बत्ती लगाने की अनुमति

वीआपी कल्चर के खिलाफ मोदी सरकार ने हाल में कानून बनाया था.

खास बातें

  1. आपदा प्रबंधन के लिए वाहन लाल-नीली बत्तियों का इस्तेमाल कर सकेंगे
  2. मई से आपातकालीन वाहनों को छोड़कर सभी वाहनों पर से बत्तियां हटाई जाएंगी
  3. इसमें पुलिस, रक्षा बलों या अर्धसैन्य बलों जैसे कार्य शामिल हैं
नई दिल्ली: केंद्र ने कानून एवं व्यवस्था की स्थिति बनाए रखने के लिए ड्यूटी पर तैनात पुलिस, रक्षा और अर्धसैन्य बलों समेत आपातकालीन वाहनों को लाल, नीली और सफेद रंग की बत्ती के इस्तेमाल करने की मंजूरी दे दी है.

वीआईपी संस्कृति समाप्त करने के लिए केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बीते महीने यह निर्णय लिया था कि एक मई से एम्बुलेंस और दमकल जैसे आपातकालीन वाहनों को छोड़कर सभी वाहनों पर से बत्तियां हटाई जायेंगी.

सड़क यातायात और राजमार्ग मंत्रालय ने एक अधिसूचना में कहा, ‘‘केंद्र सरकार यह स्पष्ट करना चाहती है कि ड्यूटी पर तैनात वाहन जैसे कि आपातकालीन और आपदा प्रबंधन के लिए निर्धारित वाहनों को लाल, नीली और सफेद बत्तियों का इस्तेमाल करने की अनुमति दी जा सकती है.’’ 

ऐसे वाहनों के बारे में विस्तार से बताते हुए अधिसूचना में कहा गया है कि इसमें कानून एवं व्यवस्था की स्थिति बनाए रखने के लिए आग पर काबू पाना और पुलिस, रक्षा बलों या अर्धसैन्य बलों जैसे कार्य शामिल हैं.

इसमें भूकंप, बाढ़, भूस्खलन, चक्रवात, सूनामी और मानव निर्मित आपदाएं जैसे कि परमाणु आपदा, रासायनिक आपदा और जैविक आपदा समेत प्राकृतिक आपदाओं के प्रबंधन से जुड़े कार्यों में भी ऐसी बत्तियों का इस्तेमाल किया जा सकता है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement