NDTV Khabar

छत्तीसगढ़ : ट्रेन में महिला टीटीई से छेड़छाड़, 11 गिरफ्तार

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रायपुर: छत्तीसगढ़ में राजनांदगांव जिले की सरहद पर पुलिस भर्ती में शामिल होने के लिए आए युवकों और सीआईएसएफ के एक जवान ने सोमवार को अहमदाबाद एक्सप्रेस में दिनदहाड़े एक महिला टीटीई की इज्जत से खेलने की कोशिश की। बिना टिकट यात्रा कर रहे इन लोगों को 35 वर्षीया टीटीई ने जब टोका तो उन्होंने पहले गाली-गलौज, फिर छेड़छाड़ की।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, बुरी तरह डरी महिला टीटीई किसी तरह वहां से भागी और पेंट्री कार में जाकर छिप गई। हंगामा कर रहे युवकों ने चेन पुलिंग कर ट्रेन को रसमड़ा के पास रोक लिया। ट्रेन के राजनांदगांव पहुंचने के बाद महिला टीटीई ने पुलिस बल के साथ एक बोगी में बैठे उस सीआईएसएफ के जवान को पहचान लिया जो छेड़छाड़ में शामिल था। महिला टीटीई की सूचना पर रसमड़ा में उतरे बाकी युवकों को भी गिरफ्तार कर लिया गया।

महाराष्ट्र में पदस्थ महिला टीटीई ने दर्ज कराई रिपोर्ट में कहा है किवह हावड़ा-अहमदाबाद एक्सप्रेस में टिकट चेक कर रही थी। दोपहर 3 बजे के आसपास एस12 बोगी में गेट के पास खड़े कुछ युवकों से जब उसने टिकट मांगा तो इन लोगों ने उसके साथ गाली-गलौज करना शुरू कर दिया। आसपास खड़े उनके साथी भी पहुंच गए। उन्होंने महिला टीटीई को चारों तरफ से घेर लिया।

महिला टीटीई के साथ धक्का-मुक्की की कोशिश कर रहे युवकों में से किसी ने महिला को जिंदा जला देने की धमकी दी। इससे महिला दहशत में आ गई। मदद के लिए वह पेंट्री कार में पहुंची तो वहां कोई नहीं था।  

आरोपियों के पीछे आने की आशंका को देखते हुए उसने पेंट्री कार का दरवाजा अंदर से बंद कर लिया। उसके बाद उसने मोबाइल फोन से आला अफसरों को पूरी घटना की जानकारी दी। इसी दौरान युवकों ने ट्रेन को चेन पुलिंग कर रोक दिया। करीब घंटे भर ट्रेन को रोककर युवक हंगामा करते रहे।

इस बीच जिला पुलिस, रेलवे पुलिस और रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स के जवान काफी संख्या में राजनांदगांव स्टेशन पर पहुंच गए। ट्रेन के पहुंचते ही पुलिस अफसरों ने महिला टीटीई को पेंट्री कार से निकाला और उसे साथ लेकर हर बोगी की तलाशी ली। एक बोगी में छिपकर बैठे युवक अमित रंजन को महिला ने पहचान लिया। पूछताछ में पता चला कि वह सीआईएसएफ में है और भिलाई में उसकी तैनाती है। वह परेड में हिस्सा लेने मुंबई जा रहा था।

जवान को दबोच कर जीआरपी उसे थाने ले आई। अमित ने बताया कि महिला से दुर्व्यवहार करने वाले युवक रसमड़ा में उतर गए। इसके बाद पुलिस की दूसरी टीम ने इन 10 आरोपियों को भी दबोच लिया। ये सभी आरोपी औरंगाबाद जिला (बिहार) के नौनेर, डेरहा व ओबरा के रहने वाले बताए जा रहे हैं। इनके नाम सोनू कुमार, सुरेंद्र यादव, गुड्डू यादव, चंदन यादव, पंकज साहू, नीरज यादव, नागदेव यादव, सुजीत कुमार, मोंटू यादव और अजीत यादव हैं। ये सभी राजनांदगांव में हो रही पुलिस भर्ती का आवेदन जमा करने आ रहे थे।

राजनांदगांव के सीएसपी मोहन दुबे ने बताया कि महिला टीटीई के साथ बदतमीजी करने वाले सभी युवकों को गिरफ्तार कर लिया गया है। आगे की कार्रवाई की जा रही है।

महिला टीटीई ने बताया कि अहमदाबाद एक्सप्रेस में रसमड़ा के पास करीब एक घंटे हंगामा चलता रहा, पर पुलिस का कोई जवान नहीं आया। उसे पूरी ट्रेन में कोई वर्दीधारी पुलिस का जवान नहीं दिखा।

टिप्पणियां

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement