COVID-19: छत्तीसगढ़ में रायपुर समेत कई जिलों में 21 सितंबर से एक हफ्ते का लॉकडाउन   

रायपुर के जिला दण्डाधिकारी द्वारा जारी आदेश के मुताबिक, रायपुर में अब तक 26,000 से अधिक कोरोना संक्रमितों की पहचान की जा चुकी है और रोजाना 900 से 1000 नए COVID मरीज मिल रहे हैं.

COVID-19: छत्तीसगढ़ में रायपुर समेत कई जिलों में 21 सितंबर से एक हफ्ते का लॉकडाउन   

रायपुर समेत 10 जिलों में एक हफ्ते का लॉकडाउन (प्रतीकात्मक तस्वीर)

रायपुर:

देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. COVID-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य सरकारें एहतियाती कदम उठा रही हैं ताकि कोरोना पर काबू किया जा सके. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में कोरोना के मामले बढ़ने के साथ राजधानी रायपुर समेत 10 जिलों में सोमवार से एक हफ्ते के लिए लॉकडाउन (Lockdown) लगाने की घोषणा की गई है. संभवत: इतने लंबे समय के लिए फिर से लॉकडाउन लगने वाला छत्तीसगढ़ पहला राज्य होगा. साथ ही राजधानी रायपुर  को 28 सितंबर तक कंटेनमेंट जोन (Containment Zone) भी घोषित किया गया है.  

रायपुर के जिला दण्डाधिकारी द्वारा जारी आदेश के मुताबिक, रायपुर में अब तक 26,000 से अधिक कोरोना संक्रमितों की पहचान की जा चुकी है और रोजाना 900 से 1000 नए COVID मरीज मिल रहे हैं. वायरस के रोकथाम की कोशिशों के बावजूद कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या में वृद्धि हो रही है. वायरस के रोकथाम और चेन को तोड़ने के लिए पूरे रायपुर जिले को कंटेनमेंट जोन घोषित किया जाना जरूरी है. 

आदेश में कहा गया है कि संपूर्ण जिले में 21 सितंबर रात 9 बजे से 28 सितंबर 12 बजे तक धारा 144 लागू किया जाता है और रायपुर जिले के समस्त क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया जाता है. इस अवधि में रायपुर जिले की सभी सीमाएं पूरी तरह से सील रहेंगी. इस दौरान, मेडिकल स्टोर्स को अपने निर्धारित समय में खुलने की अनुमति होगी. दूध की बिक्री भी निर्धारित समय में की जा सकेगी. 

रायपुर में पेट्रोल पंप भी चालू रहेंगे, लेकिन वे सिर्फ एम्बुलेंस, सरकारी वाहनों, एलपीजी डिलीवरी वाहनों और आपातकालीन सेवाओं में लगे वाहनों को ही ईंधन देंगे. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बता दें कि राजस्थान सरकार ने भी कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए 11 जिलों में धारा-144 लागू की है. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बताया कि 11 जिलों जयपुर, जोधपुर, कोटा, अजमेर, अलवर, भीलवाड़ा, बीकानेर, उदयपुर, सीकर, पाली और नागौर, जहां पर कोरोना के ज्यादा मामले आने लग गए हैं, वहां धारा-144 लगाई गई है.