NDTV Khabar

मिजोरम और असम के मुख्यमंत्रियों ने सीमा पर हुई झड़पों पर बात की, केंद्र ने मांगी रिपोर्ट

विवादास्पद सीमा को लेकर असम पुलिस और मिजोरम के प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प होने के बाद दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने टेलीफोन पर आपस में बातचीत की तथा केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इन घटनाओं पर रिपोर्ट मांगी है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मिजोरम और असम के मुख्यमंत्रियों ने सीमा पर हुई झड़पों पर बात की, केंद्र ने मांगी रिपोर्ट

खास बातें

  1. मिजोरम और असम के मुख्यमंत्रियों ने सीमा पर हुई झड़पों पर बात की
  2. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इन घटनाओं पर रिपोर्ट मांगी है
  3. मिजोरम के प्रदर्शनकारियों ने असम के हैलाकांडी में घुसने की कोशिश की थी
नई दिल्ली: विवादास्पद सीमा को लेकर असम पुलिस और मिजोरम के प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प होने के बाद दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने टेलीफोन पर आपस में बातचीत की तथा केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इन घटनाओं पर रिपोर्ट मांगी है. अधिकारियों ने बताया कि शीर्ष मिजो छात्र निकाय मिजो जिरलाई पॉल के कार्यकर्ता शाम तक झड़प वाली जगह से हट गये. मिजोरम के छात्र संगठनों ने मांग की कि असम पुलिस के कर्मी कल तक विवादित स्थल से हटें. मिजोरम पुलिस ने आरोप लगाया कि जोपुई में राज्य का एक छात्र असम पुलिस द्वारा विद्यार्थियों के एक समूह पर की गयी गोलीबारी में घायल हो गया. असम पुलिस ने आरोप का खंडन किया है और दावा किया कि प्रदर्शनकारियों को केवल वापस भेजा गया जो जिन्होंने राज्य में घुसने की कोशिश की.

यह भी पढ़ें: मूर्तियों को ढहाए जाने की घटना पर अमित शाह सख्त, ट्वीट कर दी यह चेतावनी

आठ मार्च को मिजोरम के प्रदर्शनकारियों ने असम के हैलाकांडी जिले में घुसने की कोशिश की थी और असम पुलिस ने उन्हें रोक दिया था. हैलाकांडी प्रशासन ने दूसरे तरफ से लोगों के घुस आने की आशंका से कुछ क्षेत्रों में धारा 144 के तहत कल निषेधाज्ञा लगा दी थी. सीमा पर तनाव बढ़ने के बीच मिजोरम के मुख्यमंत्री ललथन हवला और असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने टेलीफोन पर बातचीत की. मिजोरम सरकार की विज्ञप्ति के अनुसार सोनोवाल ने सुझाव दिया कि दोनों पक्ष विवादित जगह से हट जाएं. 

यह भी पढ़ें: लेनिन-पेरियार की मूर्ति तोड़े जाने के मामले में राजनाथ बोले-इन्हें कभी सही नहीं ठहराया जा सकता

टिप्पणियां
मिजोरम के मुख्य सचिव अरविंद राय ने भी असम के अपने समकक्ष से संपर्क किया और दोनों पक्ष सीमा विवाद पर बातचीत के लिए सहमत हुए. नयी दिल्ली में गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि केंद्र ने असम और मिजोरम की सरकारों से अपनी सीमा पर शांति बनाए रखने तथा जरुरी पड़ने पर निषेधाज्ञा लगाने एवं सुरक्षाबल तैनात करने को कहा है. गृह मंत्रालय ने दोनों राज्यों से घटनाओं पर रिपोर्ट भी मांगी है तथा उनसे यह भी बताने को कहा है कि उन्होंने स्थिति सामान्य बनाने के लिए क्या क्या कदम उठाए हैं. 

VIDEO: विवादित फेसबुक पोस्ट के बाद बीजेपी नेता एच राजा ने मांगी माफी
असम और मिजोरम के बीच लंबे समय से सीमा विवाद है. हैलाकांडी-कोलासिब क्षेत्र में पहले भी कई बार तनाव पैदा हो चुका है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement