NDTV Khabar

19 साल पहले दिया गया था ‘चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ’ का प्रस्ताव, आज PM मोदी ने किया लाल किले से ऐलान

वर्ष 1999 में हुए कारगिल युद्ध के बाद देश की सुरक्षा व्यवस्था में कमियों का पता लगाने के लिए गठित उच्च स्तरीय समिति ने चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ की नियुक्ति की पैरवी की थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
19 साल पहले दिया गया था ‘चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ’ का प्रस्ताव, आज PM मोदी ने किया लाल किले से ऐलान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी.

नई दिल्ली:

देश में ऐतिहासिक सैन्य सुधार के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को ऐलान किया कि सेना के तीनों अंगों के प्रमुख के तौर पर ‘चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ' (सीडीएस) का पद सृजित किया जाएगा. 1999 में कारगिल युद्ध के समय आया यह प्रस्ताव अब तक लंबित था. प्रधानमंत्री मोदी ने 73वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर लाल किले की प्राचीर से अपने भाषण में यह महत्वपूर्ण घोषणा की. उन्होंने कहा कि सीडीएस थल सेना, नौसेना और वायु सेना के बीच तालमेल सुनिश्चित करेगा और उन्हें प्रभावी नेतृत्व देगा. 

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘भारत में अब चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ होगा. इससे हमारे सशस्त्र बल और अधिक प्रभावशाली बनेंगे.' सेना के तीन अंगों के प्रमुखों में सबसे वरिष्ठ व्यक्ति सीडीएस होगा. उसकी बुनियादी भूमिका सेना, नौसेना, और वायुसेना के बीच कामकाजी समन्वय को बढ़ाने की दिशा में काम करने तथा समग्र रूख के साथ राष्ट्रीय सुरक्षा को देखने की होगी. सीडीएस प्रधानमंत्री तथा रक्षा मंत्री के लिए महत्वपूर्ण रक्षा एवं सामरिक मुद्दों पर सैन्य सलाहकार की भूमिका भी निभाएगा. 

पीएम मोदी ने लालकिले से कहा- पॉलीथीन का इस्तेमाल ना करें और 2 अक्टूबर से...


वर्ष 1999 में हुए कारगिल युद्ध के बाद देश की सुरक्षा व्यवस्था में कमियों का पता लगाने के लिए गठित उच्च स्तरीय समिति ने चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ की नियुक्ति की पैरवी की थी. राष्ट्रीय सुरक्षा व्यवस्था में जरूरी सुधारों का विश्लेषण कर रहे एक मंत्री समूह ने भी चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ की नियुक्ति की पैरवी की थी. वर्ष 2012 में ‘नरेश चंद्र टास्क फोर्स' ने चीफ्स ऑफ स्टॉफ कमेटी के स्थायी प्रमुख का पद सृजित करने की अनुशंसा की थी. 

370 और तीन तलाक का जिक्र करने के बाद पीएम मोदी ने लाल किले से कीं ये 5 अहम अपील

मौजूदा समय में चीफ्स ऑफ स्टॉफ कमेटी में सेना, नौसेना और वायुसेना के प्रमुख होते हैं तथा इनमें सबसे वरिष्ठ व्यक्ति इसका प्रमुख होता है. प्रधानमंत्री की घोषणा के बाद पूर्व सेना प्रमुख वीपी मलिक ने ट्वीट कर कहा, ‘सीडीएस की संस्था बनाने का ऐतिहासिक कदम उठाने के लिए प्रधानमंत्री मोदी आपका धन्यवाद. इस कदम से राष्ट्रीय सुरक्षा और प्रभावी एवं किफायती होगी.'

टिप्पणियां

PM मोदी का पाक को कड़ा संदेश- आतंक का निर्यात करने वालों का असली चेहरा दुनिया के सामने लाना है

VIDEO: लाल किले की प्राचीर से सेना को लेकर पीएम मोदी का बड़ा ऐलान



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement