चीन ने लद्दाख के पास जे -20 फाइटर जेट्स को फिर से तैनात किया: रिपोर्ट

सरकारी सूत्रों के हवाले से ANI ने  बताया है कि जे -20 को पीएलएएएफ द्वारा हॉटन एयर बेस पर तैनात किया गया है और वे लद्दाख और आस-पास के इलाकों में भारतीय क्षेत्र के करीब उड़ान भर रहे हैं.

चीन ने लद्दाख के पास जे -20 फाइटर जेट्स को फिर से तैनात किया: रिपोर्ट

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:

भारत और चीन के बीच सीमा पर तनाव लगातार बढ़ता ही जा रहा है. सूत्रों के हवाले से जानकारी आई थी कि पैंगौन्ग झील के दक्षिणी किनारे (Pangong Lake) पर रातभर में चीनी सेना की ओर से आक्रामक सैन्य गतिविधि करते हुए यथास्थिति में बदलाव करने की कोशिश की गई थी. जिसके बाद भारतीय सेना ने उनके प्रयास को विफल कर दिया था. इधर इस घटना के बाद एक पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के वायु सेना ने एक बार फिर से J-20 लड़ाकू विमान को सीमा पर तैनात कर दिया है. 

सरकारी सूत्रों के हवाले से ANI ने  बताया है कि जे -20 को पीएलएएएफ द्वारा हॉटन एयर बेस पर तैनात किया गया है और वे लद्दाख और आस-पास के इलाकों में भारतीय क्षेत्र के करीब उड़ान भर रहे हैं. बमवर्षक विमानों की तैनाती अभी भी चीन द्वारा की जा रही है. बताते चले कि सूत्रों के मुताबिक, 10 सितंबर को राफेल लड़ाकू विमान की आधिकारिक तौर पर इंडक्शन सेरेमनी हो सकती है. भारत की तैयारी को देखते हुए चीन की तरफ से अपने सबसे मजबूत लड़ाकू विमान को तैनाती हुयी है. 

Newsbeep

गौरतलब है कि 15 जून को पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प के बाद बाद तेजी से कार्रवाई करते हुए, भारतीय नौसेना ने दक्षिण चीन सागर में तैनाती के लिए अपने युद्धपोत भेज दिए थे, जिससे नाराज चीन ने इस मुद्दे को दोनों पक्षों के बीच वार्ता के दौरान भी उठाया और भारत के इस कदम पर आपत्ति जताई थी. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: लद्दाख की गलवान घाटी में चीनी सैनिकों का बड़ा जमावड़ा