NDTV Khabar

चिन्मयानंद कुछ दिन और अस्पताल में और लड़की कुछ दिन और जेल में रहेगी

सीपीएम नेत्री वृंदा करात ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि चिन्मयानंद पर लगा रेप का आरोप लड़की पर लगे रंगदारी के आरोप से बहुत बड़ा

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
चिन्मयानंद कुछ दिन और अस्पताल में और लड़की कुछ दिन और जेल में रहेगी

पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद कुछ दिन और जेल में रहेंगे.

खास बातें

  1. वृंदा ने कहा- मामले को पूरा तोड़ मरोड़कर केवल आरोपी को बचाया जा रहा
  2. सुभाषिनी अली ने कहा कि लड़की पर गलत मुकदमा कायम किया गया
  3. महत्वपूर्ण सबूत गायब होने का दोष पीड़िता को नहीं दिया जा सकता
लखनऊ:

चिन्मयानंद पर रेप का इल्ज़ाम लगाने वाली लॉ स्टूडेंट कम से कम चार दिन और जेल में रहेगी क्योंकि उसकी जमानत पर सुनवाई अब 30 तारीख को होगी. लेकिन चिन्मयानंद अभी कुछ और दिन अस्पताल में रहेंगे क्योंकि उन्होंने डॉक्टरों से कमजोरी और यूरिन में तकलीफ की शिकायत की है. लॉ स्टूडेंट से मिलने आज शाहजहांपुर जेल पहुंचीं सीपीएम नेता वृंदा करात और सुभाषिनी अली ने प्रशासन पर चिन्मयानंद को बचाने का आरोप लगाया.

चिन्मयानंद पर रेप का इल्जाम लगाने वाली लॉ स्टूडेंट रंगदारी मांगने के आरोप में जेल में है. सीपीएम नेत्री वृंदा करात आज उससे मिलने जेल पहुंचीं. उन्होंने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि चिन्मयानंद पर लगा रेप का आरोप लड़की पर लगे रंगदारी के आरोप से बहुत बड़ा है. उन्होंने आरोप लगाया कि चिन्मयानंद को बचाने की कोशिश हो रही है. वृंदा करात ने कहा कि 'आप बताइए कौन सी तुक है. लड़की रेप के बारे में शिकायत कर रही है और इन्होंने उसको पूरा तोड़ मरोड़कर केवल और केवल आरोपी को बचाने के लिए ऐसा काम किया है.'

सीपीएम नेत्री सुभाषिनी अली ने कहा कि लड़की पर गलत मुकदमा कायम किया गया है. सुभाषिनी अली  ने कहा कि 'एसआईटी का कहना है कि महत्वपूर्ण प्रमाण गायब हुए हैं या नष्ट हुए हैं. जैसे कि वह चश्मा, जिससे वीडियो रिकॉर्डिंग हुई थी. उसका दोष पीड़िता को नहीं दिया जा सकता है क्योंकि वह तो वहां जा ही नहीं पाई. इसमें जो 201 दफा में, प्रमाण नष्ट करने की जो दफ़ा है, उसमें केस दर्ज किया जाना चाहिए था उस संस्थान के प्रशासन के खिलाफ.'


रेप के आरोप में गिरफ्तार हुए चिन्मयानंद तो BJP ने भी किया किनारा, पार्टी की तरफ से आया यह बयान

लड़की की जमानत पर आज सेशन कोर्ट में सुनवाई हुई, लेकिन इसमें 30 सितंबर की तारीख लग गई. 30 को ही चिन्मयानंद की भी ज़मानत पर सुनवाई होनी है.

चिन्मयानंद से पांच करोड़ की रंगदारी मांगने का जुर्म कबूलने के बाद लॉ छात्रा की गिरफ्तारी हुई : एसआईटी

चिन्मयानंद 23 तारीख से लखनऊ में संजय गांधी पीजीआई में भर्ती हैं.आज जारी उनके हेल्थ बुलेटिन में कहा गया है कि ''स्वामी चिन्मयानंद कार्डियालॉजी विभाग में लो ब्लड प्रेशर और सीने में बाईं तरफ दर्द की शिकायत पर भर्ती हुए थे.उनकी एंजियोग्राफी हुई. लेकिन कोई ब्लॉकेज नहीं मिला. वे अभी भी बहुत कमजोरी और यूरिन की तकलीफ बता रहे हैं. वे डाययबिटीज और यूरिन की तकलीफ के लिए डॉक्टर की निगरानी में हैं. और उनकी जांचें हो रही हैं.”

VIDEO : लॉ छात्रा की गिरफ्तारी का विरोध

टिप्पणियां



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement