NDTV Khabar

देहरादून में इसरो के इस संस्थान के सुरक्षा की जिम्मेदारी सीआईएसएफ ने संभाली

सीआईएसएफ के 60 से अधिक सशस्त्र कर्मियों ने देहरादून में इसरो के दूरस्थ संवेदन केंद्र की सुरक्षा संभाली

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
देहरादून में इसरो के इस संस्थान के सुरक्षा की जिम्मेदारी सीआईएसएफ ने संभाली

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली: सीआईएसएफ के 60 से अधिक सशस्त्र कर्मियों के एक दस्ते ने उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में संवेदशील ‘भारतीय दूरस्थ संवेदन संस्थान’ (आईआईआरएस) की सुरक्षा का जिम्मा संभाल लिया.

आईआईआरएस भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के कमान में कार्य करता है और यह दूरस्थ संवेदन, जियो इन्फार्मेटिक्स और प्राकृतिक संसाधनों, पर्यावरण एवं आपदा प्रबंधन के लिए जीपीएस प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में प्रशिक्षित पेशेवर तैयार करने के लिए प्रमुख प्रशिक्षण एवं शैक्षिक सुविधा केंद्र है.

यह भी पढ़ें : भारत के लिए 10 जनवरी होगी बेहद खास, इस दिन किया जाएगा 31 उपग्रहों का प्रक्षेपण

केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) के प्रवक्ता एवं सहायक महानिरीक्षक हेमेंद्र सिंह ने कहा, ‘‘सरकार ने केंद्र में तैनाती के लिए सीआईएसएफ के 63 कर्मियों की एक टुकड़ी मंजूर की है. दस्ते ने कल प्रभार संभाल लिया.’’ अर्द्धसैनिक बल केंद्र को हर समय सशस्त्र सुरक्षा कवर मुहैया कराएगा. इसके साथ ही केंद्र पर किसी हमले या तोड़फोड़ जैसी गतिविधि से मुकाबले के लिए विशेष वाहन सवार कमांडो की त्वरित कार्रवाई टीमें महत्वपूर्ण स्थलों पर तैनात रहेंगी.

टिप्पणियां
VIDEO : इसरो की बड़ी छलांग की तैयारी

परिसर में सेंटर फॉर स्पेस साइंस एंड टेक्नोलॉजी एजुकेशन इन एशिया एंड द पेसेफिक का मुख्यालय भी है और यह संयुक्त राष्ट्र से सम्बद्ध है. साथ ही यहां इंडियन सोसाइटी आफ रिमोट सेंसिंग (आईएसआरएस) का मुख्यालय भी स्थित है.
(इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement