NDTV Khabar

नागरिकता संशोधन बिल : बीजेपी सांसद रविकिशन ने कहा, भारत सौ करोड़ हिन्दुओं का हिन्दू राष्ट्र

सांसद रवि किशन ने कहा- इतने सारे मुसलमान देश हैं, इतने सारे क्रिश्चियन देश हैं, यह 100 करोड़ का हिंदू देश होना अद्भुत बात

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नागरिकता संशोधन बिल : बीजेपी सांसद रविकिशन ने कहा, भारत सौ करोड़ हिन्दुओं का हिन्दू राष्ट्र

बीजेपी सांसद रवि किशन ने कहा है कि भारत की सौ करोड़ हिंदू आबादी है, यह तो वैसे ही हिंदू राष्ट्र है.

खास बातें

  1. रवि किशन ने कहा कड़े बिल पास कराने के लिए बीजेपी जानी जाती है
  2. कहा- इम्पॉसिबल बिल पास हो रहे हैं, यह अच्छी बात है
  3. कांग्रेस का बिल को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देने का इरादा
नई दिल्ली:

नागरिकता (संशोधन) बिल (Citizenship (Amendment) Bill) को कैबिनेट की मंजूरी के साथ ही इसे संसद में फिर पेश करने का रास्ता साफ हो गया है. सरकार अब इसे जल्द ही संसद में पेश करने की तैयारी में है. इस बिल को लेकर विवाद बढ़ता जा रहा है. बीजेपी के सांसद रवि किशन ने आज कहा कि ''सौ करोड़ हिंदू आबादी है, यह तो वैसे ही हिंदू राष्ट्र है. सौ करोड़ हिंदू रहते हैं यहां. इतने सारे मुसलमान देश हैं, इतने सारे क्रिश्चियन देश हैं. यह 100 करोड़ का हिंदू देश होना अद्भुत बात है. कड़े बिल पास कराने के लिए बीजेपी जानी जाती है. जो लग रहे थे इम्पॉसिबल बिल हैं, वो भी पास हो रहे हैं, यह अच्छी बात है.''

बीजेपी सांसदों का रुख बता रहा है कि उनकी कल्पना में हिंदू राष्ट्र का खयाल अब भी सबसे ऊपर है. दूसरी तरफ विपक्ष सहित पूर्वोत्तर राज्यों के नेता और संगठन नागरिकता (संशोधन) विधेयक का विरोध कर रहे हैं.


असम कांग्रेस के अध्यक्ष रिपून बोरा का कहना है कि ''हम बिल को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देने के लिए सोच रहे हैं. यह बिल असंवैधानिक है. यह आर्टिकल 14 और आर्टिकल 25 का उल्लंघन करता है. सुप्रीम कोर्ट ने IMDT Act को एनुअल कर दिया था. हम कोर्ट जाने के लिए विशेषज्ञों की राय लेंगे.''

नागरिकता संशोधन बिल पर कैबिनेट ने लगाई मुहर, इसी सप्ताह संसद में किया जा सकता है पेश

नागरिकता संशोधन बिल को कैबिनेट की मंज़ूरी मिलने के साथ ही उसका विरोध और तेज़ हो गया है. कांग्रेस सुप्रीम कोर्ट जाने की बात कर रही है और पूछ रही है कि एक समुदाय इस बिल से बाहर क्यों है. कांग्रेस के प्रवक्ता मीम अफज़ल ने कहा कि मुस्लिम समुदाय को बिल के दायरे से बाहर क्यों रखा गया?

संसद में लाए जा रहे नागरिकता बिल पर उठने लगे सवाल, कई दल कर रहे विरोध

इस बिल में पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से आकर यहां अवैध ढंग से रह रहे लोगों को भी नागरिकता देने का प्रावधान है, बशर्ते वो मुसलमान न हों. यही बात सबको चुभ रही है. महबूबा मुफ्ती के ट्विटर हैंडिल से उनकी बेटी ने ट्वीट किया- 'इंडिया नो कंट्री फॉर मुस्लिम्स.'

नागरिकता (संशोधन) विधेयक पर महबूबा मुफ्ती की नाराजगी आई सामने, कहा- मुसलमानों के लिए...

दूसरी तरफ सरकार भरोसा दिलाने में लगी है कि बिल में पूरे देश का खयाल रखा गया है. सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि ''बिल में सभी का ध्यान रखा गया है. यह भारत की देखभाल करने वाला है. जब विधेयक पेश किया जाएगा तो आपके पास सभी विवरण होंगे. इसे जल्द से जल्द संसद में लाया जाएगा.''

क्या है नागरिकता (संशोधन) बिल, जिसे केंद्रीय कैबिनेट ने दी है मंज़ूरी : 10 खास बातें

लोकसभा में यह बिल एक बार पहले पास हो चुका है. इस बार भी लोकसभा में मुश्किल नहीं होगी. राज्यसभा में असली चुनौती है. जेडीयू को इस बिल पर एतराज है. सरकार के लिए राहत की बात यह है कि बीजेडी बिल का समर्थन कर सकती है.

गिरिराज सिंह बोले, NRC हिंदुस्तान की मांग, एक देश और एक कानून...

कैबिनेट की मंज़ूरी के बाद अब सरकार इसे जल्दी संसद में पेश करने की तैयारी कर रही है. विपक्ष ने बिल को असंवैधानिक करार दिया है. ऐसे में सरकार के सामने अगली चुनौती बिल को संसद में पारित करने के लिए जरूरी बहुमत जुटाने की होगी.

VIDEO : नागरिकता संशोधन बिल पर विपक्ष के विरोध से कैसे निपटेगी सरकार?

टिप्पणियां



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


Advertisement