NDTV Khabar

अगर नागरिकता संशोधन विधेयक राज्यसभा में हुआ पास तो एनडीए का साथ छोड़ देगा यह 'दल'

बता दें कि बीते कुछ महीनों में एनडीए से उसके कई सहयोगी अलग हुए हैं. जिनमें अपना दल और राष्ट्रीय लोक समता पार्टी मुख्य रूप से शामिल हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अगर नागरिकता संशोधन विधेयक राज्यसभा में हुआ पास तो एनडीए का साथ छोड़ देगा यह 'दल'

कोनराड के संगमा ने एनडीए से अलग होने की दी धमकी

खास बातें

  1. नागरिकता संशोधन विधेयक पर पीएम ने विपक्ष पर किया था हमला
  2. पीएम ने कांग्रेस पर भी साधा निशाना
  3. बिल को लेकर एनडीए में गतिरोध
नई दिल्ली:

नागरिकता संशोधन विधेयक को लेकर एक बार फिर राजनीति गरमाने लगी है.पूर्वोत्तर में नागरिकता विधेयक का बड़े पैमाने पर हो रहे विरोध के बीच नेशनल पीपुल्स पार्टी के अध्यक्ष एवं मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड के संगमा ने धमकी दी है कि अगर यह विधेयक राज्यसभा में पारित होता है तो उनकी पार्टी केंद्र में सत्तारूढ़ राजग से अलग हो जाएगी. संगमा ने कहा कि एनपीपी की यहां शनिवार को हुई महासभा में इस आशय का एक प्रस्ताव पारित किया गया. उन्होंने बताया कि एनपीपी मेघालय के अलावा अरूणाचल प्रदेश, मणिपुर और नगालैंड की सरकारों को समर्थन दे रही है. महासभा में इन चारों पूर्वोत्तर राज्यों के पार्टी नेता मौजूद थे.

असम में बोले पीएम मोदी, पूरा देश देख रहा है कि चौकीदार की चौकसी से कैसे भ्रष्टाचारी बौखलाए हैं


संगमा ने बैठक के बाद संवाददाताओं को बताया कि पार्टी ने एकमत से एक प्रस्ताव अपनाया है जिसमें नागरिकता संशोधन विधेयक 2016 का विरोध करने का निर्णय किया गया है. अगर यह विधेयक पारित हो जाता है तो एनपीपी राजग के साथ अपना गठबंधन तोड़ देगा. उन्होंने कहा कि यह निर्णय आज महासभा में किया गया. बता दें कि बीते कुछ महीनों में एनडीए से उसके कई सहयोगी अलग हुए हैं. जिनमें अपना दल और राष्ट्रीय लोक समता पार्टी मुख्य रूप से शामिल हैं.

गोवा कांग्रेस का दावा, मनोहर पर्रिकर के बेडरूम में हैं राफेल डील के 'राज'

गौरतलब है कि इससे पहले पीएम मोदी ने शनिवार को असम मे रैली करते हुए कहा कि विपक्ष में बैठी पार्टियों का काम सिर्फ लोगों को गुमराह करना है. पीएम मोदी ने कहा कि असम के साथ-साथ देश में के किसी भी हिस्से में घुसपैठियों के लिए कोई जगह नहीं है. उन्होंने कहा कि कुछ लोगों ने देश को बर्बाद कर दिया है. हमारी सरकार पूर्वोत्तर की जनता के अधिकारी की रक्षा करने के लिए प्रतिबद्ध है. 

कांग्रेस ने कहा- राफेल सौदे में पीएम या PMO बिचौलिए की तरह काम कर रहे थे!

पीएम मोदी ने कांग्रेस और अन्य पार्टी पर हमला करते हुए कहा कि जो दिल्ली में एसी के कमरे में बैठते हैं और जिनका काम है सिर्फ संसद में हर बात का विरोध करना है,  वह इस बिल को लेकर सिर्फ गलत सूचना ही फैला रहे हैं. पीएम ने कहा कि दूसरी पार्टी तो सत्ता में रहने के बाद भी बीते 35 वर्षों में क्लॉज 6 जो असम समझौते की आत्मा है को लागू नहीं कर पाए. बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को पूर्वोत्तर के दौरे पर हैं.

यह ऐसी 'मिलावट' है कि कौन कहां मिट जाएगा, किसी को नहीं पता : अखिलेश यादव

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के शुक्रवार शाम गुवाहाटी पहुंचने और हवाई अड्डे से राजभवन जाने के दौरान ऑल असम स्टूडेंट यूनियन (आसू) के सदस्यों ने काले झंडे दिखाए और नागरिकता संशोधन विधेयक के खिलाफ नारेबाजी की. आसू सदस्यों ने गुवाहाटी विश्वविद्यालय के गेट पर प्रधानमंत्री को उस समय काले झंडे दिखाए जब वह लोकप्रिय गोपीनाथ बारदोलोई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा से शाम करीब साढ़े छह बजे राजभवन की ओर जा रहे थे. 

VIDEO: आरोपों का दौर जारी.

 

 

टिप्पणियां

 

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement