NDTV Khabar

मुझे माफ करना पापा, मैं उम्मीदों पर खरा नहीं उतर पाया! ऐसा लिख 12वीं के स्टूडेंट ने किया सुसाइड

12वीं की परीक्षा चल रही हैं. ऐसे में कई खबरें आती हैं जहां स्टूडेंट्स एग्जाम स्ट्रेस की वजह से जान दे देते हैं. इस बार फिर ऐसा मामला आया है. चंडीगढ़ के रहने वाले 12वीं के स्टूडेंट करणबीर सिंह ने सुसाइड कर लिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मुझे माफ करना पापा, मैं उम्मीदों पर खरा नहीं उतर पाया! ऐसा लिख 12वीं के स्टूडेंट ने किया सुसाइड

चंडीगढ़ के 12वी के स्टूडेंट ने किया सुसाइड.

खास बातें

  1. चंडीगढ़ के 12वी के स्टूडेंट ने किया सुसाइड.
  2. फिजिक्स का एग्जाम देने के बाद करणबीर ने सुसाइड कर लिया.
  3. सुसाइट नोट में लिखा- इसके लिए मैं खुद जिम्मेदार हूं.
नई दिल्ली: 12वीं की परीक्षा चल रही हैं. ऐसे में कई खबरें आती हैं जहां स्टूडेंट्स एग्जाम स्ट्रेस की वजह से जान दे देते हैं. इस बार फिर ऐसा मामला आया है. चंडीगढ़ के रहने वाले 12वीं के स्टूडेंट करणबीर सिंह ने सुसाइड कर लिया है. timesofindia की खबर के मुताबिक, बुधवार को फिजिक्स का एग्जाम देने के बाद उसने जिंदगी का अंत कर लिया. परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन न कर पाने की वजह से उसने ये कदम उठाया. 

Exam Tips: परीक्षा के समय बच्चा हो रहा है चिड़चिड़ा या बीमार? तो ऐसे करें उसे पेपर के लिए तैयार

मोहाली में अपने दादा के घर पंखे से लटककर उसने जान दे दी. बता दें, वो माता-पिता का अकेला बच्चा था. उनके पिता अरविंदर सिंह और मां इंदरदीप कौर ने कहा कि वो भविष्य में इंजीनियरिंग करना चाहता था और उसे कभी पढ़ाई को लेकर उदास नहीं देखा गया था. 

EXAM की टेंशन न कर दे आपको बहुत बीमार, तनाव से बचने के लिए करें ऐसा

करणबीर ने सुसाइट नोट में लिखा है- ''इसके लिए मैं खुद जिम्मेदार हूं, इसमें किसी का भी दोष नहीं है.'' scoopwhoop की खबर के मुताबिक, उन्होंने अपने माता-पिता के लिए लिखा- ''मुझे माफ करना, मैं आपकी उम्मीदों पर खरा नहीं उतर पाया. मैं अपने दादा-दादी से काफी प्यार करता हूं, उनका ख्याल रखना.''

परीक्षाओं के तनाव से निपटने के लिए पीएम मोदी के खास नुस्खे आज आएंगे सामने

करणजीत अक्सर अपने दादा-दादी के घर पढ़ाई किया करता था क्योंकि उसके अपने घर में काफी शोर महसूस होता था. करणवीर के पिता ने कहा- ''जब मैं उसे एग्जाम सेंटर से लेकर निकला तो मैंने उससे परफॉर्मेंस के बारे में पूछा, उसने कहां, कि उससे कुछ प्रश्न छूट गए हैं, मैं उससे कहा था कि तेज लिखने की आदत डालो. काश मैं उससे कहता कि मार्क्स मायने नहीं रखते. मायने रखता है तो उसके चेहरे की मुस्कान.'

टिप्पणियां
एग्‍जाम के दौरान हो बहुत ज्‍यादा टेंशन, तो ऐसे दूर करें दिमाग का एस्‍ट्रेस

बता दें, करणवीर काफी होनहार छात्र था, प्री-बोर्ड एग्जाम में उसके 90 प्रतिशत मार्क्स आए थे. वो अप्रैल में होने वाली आईआईटी परीक्षा के लिए तैयारी कर रहा था. वो 10वीं में टॉपर भी था.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement