उत्तर भारत के कई राज्यों में बादल फटने और अचानक बाढ़ का संकट, Flood Advisory जारी

केंद्रीय जल आयोग (Central Water Commission) ने सोमवार को देश के कई राज्यों के लिए बाढ़ को लेकर एडवाइज़री जारी की है. आयोग की ओर कुछ उत्तर भारत के कुछ पहाड़ी जिलों में अचानक बाढ़ और भूस्खलन की आशंका को लेकर चेतावनी जारी की गई है. यह एडवाइजरी देश के कुछ हिस्सों में हो रही लगातार बारिश और कई नदियों में बढ़ते जलस्तर को देखते हुए जारी की गई है. 

उत्तर भारत के कई राज्यों में बादल फटने और अचानक बाढ़ का संकट, Flood Advisory जारी

देश के कई राज्यों की नदियों में बढ़ा जलस्तर, बाढ़ का डर. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली:

केंद्रीय जल आयोग (Central Water Commission) ने सोमवार को देश के कई राज्यों के लिए बाढ़ को लेकर एडवाइज़री जारी की है. आयोग की ओर कुछ उत्तर भारत के कुछ पहाड़ी जिलों में अचानक बाढ़ और भूस्खलन की आशंका को लेकर चेतावनी जारी की गई है. यह एडवाइजरी देश के कुछ हिस्सों में हो रही लगातार बारिश और कई नदियों में बढ़ते जलस्तर को देखते हुए जारी की गई है. हिमाचल प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश के लिए जारी की गई एडवाइज़री में कहा गया है कि यहां तेज से भारी बारिश के चलते गंगा, सतलुज, रवि, ब्यास, घघ्घर, यमुना, भागीरथी, अलकनंदा, रामगंगा, शारदा, सरजू और घाघरा नदियों का स्तर और बढ़ सकता है. वहीं, इसमें फ्लैश फ्लड और बादल फटने की घटनाओं की आशंका भी जताई गई है. एडवाइजरी के मुताबिक, 'इन राज्यों के कुछ पहाड़ी जिलों में अचानक बाढ़ आने या फिर बादल घटने जैसी घटनाओं की आशंका है. भूस्खलन और इसके चलते नदियों के बहाव में रुकावट आने जैसी घटनाएं हो सकती हैं, इस मद्देनजर बचाव के कदम उठाने की सलाह है.'

ओडिशा, तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के लिए भारी से बहुत बारिश का अनुमान है. वहीं विदर्भ और छत्तीसगढ़ में तेज बारिश देखी जा सकती है. यहां अत्यधिक तेज बारिश के चलते, इन राज्यों से गुजरने वाली गोदावरी नदी का जलस्तर काफी बढ़ गया है. छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा, नारायणपुर और बीजापुर जिलों में इंद्रावती नदी और ओडिशा में सबरी नदी का जलस्तर भी काफी बढ़ने की आशंका है. महाराष्ट्र, गुजरात और गोवा में निचली मही, निचली नर्मदा, निचली तापी और दमनगंगा के जलस्तर को लेकर चेतावनी है. इन राज्यों में अगले चार-पांच दिनों में तेज बारिश का अनुमान है.

पूर्वी राजस्थान और पश्चिमी मध्य प्रदेश में अगले तीन-चार दिनों में भारी बारिश का अनुमान है, जिसके चलते चंबल, मही, साबरमती, कालीसिंध और बनास नदी का जलस्तर बढ़ सकता है. तमिलनाडु और कर्नाटक में कावेरी नदी का जलस्तर बढ़ने की आशंका है. बिहार के लिए एडवाइजरी में कहा गया है कि राज्य की अधिकतर नदियां सामान्य से ऊपरी स्तर पर चल रही है और बारिश के चलते यहां अभी अगले तीन-चार दिन हालात ऐसे ही बने रहने की आशंका है. इन सभी राज्यों में बांधों पर जलस्तर की मॉनिटरिंग और जरूरी कदम उठाने की सलाह दी गई है.

Video: हैदराबाद समेत तेलंगाना के कई जिलों में भारी बारिश


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com