Hindi news home page

योगी आदित्यनाथ ने कसा तंज - अखिलेश से तो एक साल बड़ा हूं लेकिन राहुल गांधी से छोटा हूं

ईमेल करें
टिप्पणियां
योगी आदित्यनाथ ने कसा तंज - अखिलेश से तो एक साल बड़ा हूं लेकिन राहुल गांधी से छोटा हूं

उत्तर प्रदेश के नए मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने मंगलवार को लोकसभा में धन्यवाद भाषण दिया...

खास बातें

  1. यूपी के नए मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने लोकसभा में धन्यवाद भाषण दिया
  2. भाजपा सांसदों ने 'भारत माता की जय' के नारों के साथ स्वागत किया
  3. योगी ने इशारों-इशारों में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधा
नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के नए मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने मंगलवार को लोकसभा में धन्यवाद भाषण दिया. फिलहाल योगी लोकसभा सदस्य हैं. भाजपा सांसदों ने 'भारत माता की जय' के नारों के साथ उनका स्वागत किया. अपने भाषण के दौरान उन्होंने इशारों-इशारों में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधा. योगी के इस बयान के कई मायने निकाले जा रहे हैं. माना जा रहा है कि योगी ने अखिलेश-राहुल के गठबंधन पर निशाना साधा है. दोनों ही नेताओं ने 'यूपी को साथ पसंद है' की तर्ज पर चुनाव में प्रचार किया था. हालांकि ये जोड़ी कुछ खास नहीं कर सकी और बीजेपी की आंधी के आगे टिक न सकी.

पीएम मोदी की तारीफ
योगी ने अपने भाषण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की. उन्होंने कहा कि पिछले तीन साल के दौरान नरेंद्र मोदी सरकार ने देश की विकास दर को साढ़े आठ प्रतिशत तक ले जाने में सफलता हासिल की. नोटबंदी की घटना पर दुनिया इसके परिणाम देखना चाहती थी, और हमारे देश की अर्थव्‍यवस्था आगे जा रही है. वर्ष 2014 से पहले लोग कहते थे, लेकिन चुनाव के दौरान और उसके बाद भी पीएम ने पूरी दृढ़ता के साथ जिन बातों को कहा, उन्हें किया भी. किसानों और गरीबों के विकास को लेकर अच्‍छा काम किया.  किसानों के पास खाते नहीं होते थे.

पीएम ने सबके हित की बात कही. पीएम मुद्रा बैंक योजना बेहद अच्‍छी योजना थी. प्रधानमंत्री उज्‍ज्वला योजना के तहत महिलाओं को अच्‍छे अवसर प्राप्‍त हुए. दुनियाभर में भारत का सम्‍मान बढ़ा है. 26 साल से गोरखपुर के बंद पड़े फर्टिलाइज़र कारखाने को पीएम ने शुरू करवाया. पीएम ने गोरखपुर को एम्‍स दिया. देश के अंदर बुनियादी ढांचे का विकास कैसा हो, यह मॉडल पीएम ग्रामीण सड़क योजना के माध्यम से पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने दिया था.

बेबाकी से जिम्मेदारी के साथ बोले
योगी तो वैसे अपनी बात बेबाकी से रखने के लिए जाने जाते हैं. सदन में भाषण के दौरान योगी आत्मविश्वास से भरे नजर आए लेकिन अपनी बात उन्होंने जिम्मेदारे के साथ रखी. उन्होंने कहा कि यूपी का दायित्व पार्टी ने मुझे सौंपा, लेकिन दुःख के साथ कहना पड़ रहा है कि ढाई साल में मात्र 78,000 करोड़ रुपये ही प्रदेश में पूर्व सरकार द्वारा व्यय किए गए. यूपी में विकास का ढांचा नहीं था. मैं केवल अनुरोध करना चाहूंगा कि यूपी के अंदर विकास का नया ढांचा 'सबका साथ सबका विकास' की तर्ज पर यूपी की नई सरकार स्थापित करेगी. एक बार योगी ने फिर दोहारया कि हम हर जाति, हर वर्ग के विकास के लिए संकल्पित होकर कार्य करेंगे.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement