AAP ने पंजाब गांवों में चलाया ऑक्सीमीटर अभियान, तो CM अमरिंदर बोले - प्रदेश से दूर रहे

आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल द्वारा पंजाब के गांवों में लोगों का ऑक्सीजन स्तर जांचने के लिए अभियान शुरू करने की घोषणा के एक दिन बाद...

AAP ने पंजाब गांवों में चलाया ऑक्सीमीटर अभियान, तो CM अमरिंदर बोले - प्रदेश से दूर रहे

मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह - फाइल फोटो

चंडीगढ़:

आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल द्वारा पंजाब के गांवों में लोगों का ऑक्सीजन स्तर जांचने के लिए अभियान शुरू करने की घोषणा के एक दिन बाद राज्य के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने उन्हें प्रदेश से दूर रहने और अपने शहर में कोरोना वायरस से निपटने पर ध्यान केंद्रित करने को कहा. दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने बुधवार को एक वीडियो संदेश में पंजाब के लोगों से अपील की थी कि वे आप के कार्यकर्ताओं को अभियान चलाने में मदद करें.

चीन के साथ जारी तनाव के बीच CDS जनरल रावत की पाकिस्‍तान को दोटूक, 'दुस्‍साहस किया तो भारी पड़ेगा'

उन्होंने कहा था, ‘‘हमने दिल्ली में ऑक्सीमीटर को मददगार साबित होते देखा है. इसलिए आप पंजाब की हर गली, मोहल्ले और गांव में ऑक्सीमीटर ले जा रही है. आप के कार्यकर्ता घर घर जाएंगे और लोगों के ऑक्सीजन स्तर की जांच करेंगे." इस बीच बृहस्पतिवार को अमरिंदर ने केजरीवाल को राज्य के गांवों में लोगों को "उकसाने" के लिए कोविड संकट का फायदा उठाने की कोशिश करने को लेकर आगाह किया. राज्य के गांवों में ढेरों फर्जी खबरों सुनने को मिली हैं.

उन्होंने केजरीवाल से कहा, "हमें आपके ऑक्सीमीटरों की जरूरत नहीं है. हमें सिर्फ इस बात की आवश्यकता है कि आप पंजाब में अपने कार्यकर्ताओं पर लगाम लगाएं. जहां वे मेरे लोगों को जांच और इलाज के लिए अस्पतालों में नहीं जाने की खातिर उकसाने की कोशिश कर रहे हैं."

खुद को PMO का बड़ा अफसर बताकर करता था धोखाधड़ी, 36 करोड़ की ठगी मामले में गिरफ्तार

Newsbeep

अमरिंदर ने कहा कि कम से कम एक ऐसी अफवाह थी जो विदेश से, संभवत: पाकिस्तान से शुरू की गयी थी और यहां केजरीवाल की आप पार्टी के एक सक्रिय कार्यकर्ता द्वारा उसे कथित तौर पर प्रचारित किया गया. पंजाब सरकार द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, आप के अमरिंदर सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है और यह पता लगाने के लिए पूछताछ की जा रही है कि पंजाब के लोगों को "गुमराह" करने के लिए किसने ‘प्रेरित' किया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इसमें कहा गया है कि लोगों को यह कहकर गुमराह किया जा रहा है कि कोरोना वायरस की चपेट में आकर मरे मरीजों के अंगों को पंजाब स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा निकाला जा रहा है. उन्होंने कहा कि आप कार्यकर्ता द्वारा कथित तौर पर प्रचारित वीडियो व पोस्ट में लोगों को स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ सहयोग नहीं करने के लिए उकसाया गया. उन्होंने कहा कि पुलिस ने बृहस्पतिवार सुबह एक स्थानीय पत्रकार की शिकायत पर पटियाला में एक और मामला दर्ज किया. पत्रकार को कोविड से भय को लेकर गलत वीडियो बनाने और प्रसारित करने के लिए पैसे की पेशकश की गई थी.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)