NDTV Khabar

कश्मीर और पंजाब के आंतकवादियों को साथ लाने को लेकर सीएम अमरिंदर सिंह का पाकिस्तानी सेना पर बड़ा हमला, कहा...

अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) ने कहा कि वह कश्मीर और पंजाब के आंतकवादियों को साथ लाने की कोशिश में लगे हैं. इसके पीछे इमरान खान नहीं बल्कि पाकिस्तान की सेना है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कश्मीर और पंजाब के आंतकवादियों को साथ लाने को लेकर सीएम अमरिंदर सिंह का पाकिस्तानी सेना पर बड़ा हमला, कहा...

अमरिंदर सिंह ने पाकिस्तान सेना पर साधा निशाना

खास बातें

  1. अमरिंदर सिंह ने कहा- जानबूझकर करा रहे हैं ऐसी घटनाएं
  2. पंजाब के सीएम ने इमरान खान नहीं ठहराया जिम्मेदार
  3. बीते दिनों हुआ था पंजाब में ग्रेनेड से हमला
नई दिल्ली:

पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह (Punjab Chief Minister Amarinder Singh) ने पाकिस्तानी सेना (Pakistan Army) पर एक बार फिर हमला बोला है. उन्होंने मंगलवार को कहा कि पाकिस्तान की सेना (Pakistan Army) एक मकसद के तहत कश्मीरी आतंकवादियों को पंजाब भेज रही है. सिंह ने कहा कि ये आतंकवादी ही पंजाब के स्थानीय युवकों से मिलकर राज्य में हमले कर रहे हैं. एनडीटीवी से खास बातचीत में अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) ने कहा कि वह कश्मीर और पंजाब के आंतकवादियों को साथ लाने की कोशिश में लगे हैं. इसके पीछे इमरान खान नहीं बल्कि पाकिस्तान की सेना है. जबतक वह अपनी आर्मी को अपने नियंत्रण में नहीं करते तब तक हमें इन हालात से जूझना होगा. हमारे पास और कोई विकल्प भी नहीं है.

यह भी पढ़ें: पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह 5 दिन की इजरायल यात्रा पर गए


सीएम अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) ने बताया कि राज्य में हुए आतंकवादी हमलों में पाकिस्तान का हाथ होने के शक की वजह से ही उन्होंने करतार सिंह साहेब कॉरिडोर को लेकर मिले पाकिस्तान के निमंत्रण को ठुकरा दिया. सीएम सिंह ने बताया कि ऐसा पहली बार हो रहा है जब कश्मीरी और पंजाबी आतंकवादी एक साथ पाकिस्तानी सेना की देखरेख में ऑपरेशन कर रहे हैं. इन आंतकवादी संगठनों के संपर्क में खासतौर पर छात्र भी आ रहे हैं. पंजाब के कॉलेजों में 6 हजार से ज्यादा कश्मीरी छात्र पढ़ते हैं. ये सभी अच्छे छात्र हैं जो सिर्फ पढ़ाई के लिए आए हैं. और इनसे हमें कोई दिक्कत नहीं है. लेकिन कुछ दिन पहले हमनें ऐसे ही दो माड्यूल को पकड़ा है जो सिर्फ छात्रों के बीच अपनी  पैठ बढ़ाने के लिए काम कर रहे थे. 

यह भी पढ़ें: हादसे की होगी न्यायिक जांच, CM अमरिंदर बोले- 4 हफ्ते में जांच रिपोर्ट मांगी

गौरतलब है कि कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा, 'मैं पाकिस्तान के सेना प्रमुख कमर बाजवा से एक सिपाही के तौर पर कुछ पूछना चाहता हूं. आखिर कौन सी सेना युद्धविराम का उल्लंघन करने और दूसरी तरफ के जवानों को मारने की सीख देती है? कौन सी सेना पठानकोट और अमृतसर में हमले के लिए सिखाती है? यह कायरता है'. कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा, 'हम शांति में विश्वास रखते हैं और यहां से अमन-चैन का संदेश देते हैं, लेकिन उनके सेना अध्यक्षों को यह भी समझना चाहिए कि हमारे पास बड़ी सेना है और हम हमेशा तैयार हैं.लेकिन ऐसा नहीं होना चाहिए, क्योंकि कोई भी युद्ध नहीं चाहता है. हम सभी शांतिपूर्वक तरीके से विकास में भरोसा रखते हैं'.

यह भी पढ़ें: अमृतसर हादसा : पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह ने इजराइल दौरा रद्द किया

टिप्पणियां

अमरिंदर सिंह ने 18 नवंबर को अमृतसर के निरंकारी भवन में हुए हमले के पीछे पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि जिन ग्रेनेड से हमला हुआ वे पाकिस्तान में बने थे. आपको बता दें कि करतारपुर गलियारे का शिलान्यास समारोह 28 नवंबर को होगा. यह गलियारा करतारपुर के ऐतिहासिक गुरुद्वारा दरबार साहिब के साथ भारत के सीमावर्ती जिले गुरदासपुर को जोड़ेगा. इससे पहले एक महत्वपूर्ण निर्णय में कैबिनेट ने भारतीय तीर्थयात्रियों को गुरुद्वारा दरबार साहिब जाने के लिए गलियारे विकसित करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी. 


 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement