इंदौर: कॉमेडियन के दोस्त की कोर्ट कैंपस में ही हुई पिटाई, मुनव्वर फारुकी समझ किया हमला

हिंद रक्षक संगठन का आरोप है कि मुनव्वर फारुकी सीरियल ऑफेंडर हैं जो पहले भी अपने शो में हिंदू देवी-देवताओं का मजाक बना चुका है.

इंदौर: कॉमेडियन के दोस्त की कोर्ट कैंपस में ही हुई पिटाई, मुनव्वर फारुकी समझ किया हमला

पुलिस सदाकत को कोर्ट से थाने लेकर जा रही थी.

इंदौर:

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh)के इंदौर में स्टैंडअप कॉमेडियन मुनव्वर फारुकी (Comedian Munawar Faruqui) को गिरफ्तार किए जाने के मामले के बीच कुछ लोगों द्वारा उसके की पिटाई करने का मामला भी समाने आया है.  हिन्द रक्षक संगठन के लोगों द्वारा कॉमेडियन पर आरोप गया है कि उसने देश के गृह मंत्री अमित शाह और गोधरा कांड पर भद्दा मजाक कर उनका अपमान किया है. संगठन ने फारूकी ने हिन्दू देवी-देवताओं पर भी मजाक कर लोगों की भावना को ठेस पहुंचाने का काम किया है.

आज इस मामले में गिरफ्तार किए गए फारूकी के दोस्त सदाकत को जब कोर्ट में पेश किया गया था उस वक्त कोर्ट परिसर में पुलिस की मौजूदगी में ही एक शख्स ने सदाकत को मुनव्वर समझकर पीट दिया.  पुलिस सदाकत को मोटरसाइकिल पर बैठकर ले जा रही थी. तभी एक शख्स आया और गालियां देते हुए सदाकत को पीटने लगा. दरअसल ये शख्स सदाकत को मुनव्वर समझ रहा था.

यह भी पढ़ें- स्टैंड अप कॉमेडियन ने अमित शाह, गोधरा कांड पर किया मजाक, हिन्द रक्षक दल घसीट लाया थाने

आपको बता दें कि मुनव्वर का केस शहर के 56 दुकान क्षेत्र के मुनरो कैफे से जुड़ा है, जहां स्टैंड अप कॉमेडियन के कार्यक्रम का हिंद रक्षक संगठन ने विरोध करते हुए कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी और आयोजक को तुकोगंज थाने पहुंचा दिया.

हिंद रक्षक संगठन का आरोप है कि मुनव्वर फारुकी सीरियल ऑफेंडर हैं जो पहले भी अपने शो में हिंदू देवी-देवताओं का मजाक बना चुका है. साथ ही गोधरा कांड में मारे गए कारसेवकों के बारे में भी टिप्पणी कर चुका है. इस मामले में उसने केंद्रीय मंत्री अमित शाह का नाम भी घसीटा है.

संगठन के संरक्षक एकलव्य गौड़ ने कहा, "हमें जैसे ही इस कार्यक्रम की जानकारी लगी, हमने इसके कार्यक्रम के टिकट खरीदे और उस कार्यक्रम में बैठकर जब उसे सुना तो पाया कि देवी देवताओं और केंद्रीय मंत्री को लेकर वैसे ही मज़ाक कर रहा है, जो पहले भी शो में कर चुका है."


गौड़ ने बताया कि पहले हमने उसके कार्यक्रम का वीडियो बनाया, फिर उसे पकड़कर थाने ले आए. हिन्द रक्षक संगठन ने कार्यक्रम का वीडियो पुलिस को सौंपा है और उसके आधार पर फारुकी के खिलाफ सख्ती से कार्रवाई की मांग की है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वहीं क्षेत्रीय सीएसपी के मुताबिक मुनरो कैफे के मालिक मुक्ता जैन ने इस कार्यक्रम की अनुमति नहीं ली थी. साथ ही इस कार्यक्रम में 18 साल से कम उम्र के बच्चे भी मौजूद थे. देवी देवताओं को लेकर की गई टिप्पणी के आरोपों की जांच पुलिस करवा रही है.  पुलिस ने कहा है कि जांच में दोषी पाए जाने पर सख्ती से कार्रवाई की जाएगी.