Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

EU सांसदों के कश्मीर दौरे पर कांग्रेस का निशाना- PM बताएं कि सुरक्षा को क्यों ताक पर रखा, विदेश नीति को अंतरराष्ट्रीय ब्रोकर के हाथों रखा गिरवी

कांग्रेस ने कहा, ये भारत सरकार की बहुत बड़ी चूक है. कश्मीर भारत का आंतरिक मामला है. 72 साल की इस नीति को क्या मोदी सरकार ने बदल दिया है?

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
EU सांसदों के कश्मीर दौरे पर कांग्रेस का निशाना- PM बताएं कि सुरक्षा को क्यों ताक पर रखा, विदेश नीति को अंतरराष्ट्रीय ब्रोकर के हाथों रखा गिरवी

कांग्रेस के अलावा असदुद्दीन औवेसी ने भी मोदी सरकार पर निशाना साधा है.

नई दिल्ली:

यूरोपीय संघ के सासंदों के कश्मीर दौरे को लेकर कांग्रेस ने मोदी सरकार पर निशाना साधा है. बुधवार को कांग्रेस ने कहा कि भाजपा ने संसद और हमारे लोकतंत्र का अपमान किया है. विपक्षी दलों के सांसदों को एयरपोर्ट पर हिरासत में लिया और विदेशी सांसदों को बुलाकर घुमाया है. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा, 'पीएम मोदी बताएंगे कि मादी शर्मा कौन है? भाजपा से उसका क्या रिश्ता है? वह प्रधानमंत्री के साथ किस हैसियत से अप्वाइंटमेंट फिक्स करा रही हैं? विदेशी मंत्रालय को क्यों साइडलाइन कर दिया?'

पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए सुरजेवाला ने कहा, 'प्रधानमंत्री बताएंगे कि भारत की संप्रभुता और सुरक्षा को क्यों ताक पर रख दिया? कश्मीर भारत का आंतरिक मामला है. पिछले तीन दिनों में मोदी सरकार ने इसे पलट कर देश का अपनान किया है. मोदी सरकार ने विदेश नीति को अंतरराष्ट्रीय बिजनेस ब्रोकर के हाथों गिरवी रख दिया.'

EU सांसदों के कश्मीर दौरे पर बोले औवेसी- मुसलमानों से नफरत करने और हिटलर को चाहने वालों को बुलाया


साथ ही कहा, ये भारत सरकार की बहुत बड़ी चूक है. कश्मीर भारत का आंतरिक मामला है. 72 साल की इस नीति को क्या मोदी सरकार ने बदल दिया है? अगर ऐसा किया है तो ये देश की हितों के साथ खिलवाड़ है. भारत को किसी तीसरे देश सा समूह के सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं है.

NDTV को मिली Exclusive जानकारी, किसने यूरोपियन यूनियन के सांसदों को घाटी के दौरे का दिया न्योता

कांग्रेस के अलावा एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन औवेसी ने भी मोदी सरकार पर निशाना साधा है. औवेसी ने कहा कि ये कौन लोग हैं? इन्हें क्यों बुलाया गया है? मुसलमानों से नफरत करने वाले और हिटलर को चाहने वालों को बुलाया गया है. 

EU सांसदों के कश्मीर दौरे पर शिवसेना ने उठाए सवाल- सब कुछ ठीक तो इनको लाने का क्या मकसद?

औवेसी ने कहा, 'ये कौन लोग हैं? इन्हें क्यों दिखाना है? यह आधिकारिक प्रतिनिधिमंडल नहीं है. जब आधिकारिक प्रतिनिधिमंडल नहीं है तो क्यों बुलाया गया? जो मुसलमान और इस्लाम से नफरत करते हैं और हिटलर को चाहने वाले हैं, उन्हें बुलाया गया है. इनमें से कई सांसद हैं, जो हिटलर को चाहते हैं, फासीवादी हैं. आप उनको बुला रहे हैं, उन्हें दिखा रहे हैं. उनको अपना दोस्त समझ रहे हैं. आप दुनिया को क्या बता रहे हैं? आप देश को क्या पैगाम दे रहे हैं? कश्मीरियों को क्या पैगाम दे रहे हैं? ये तो इनको फैसला करना है. इतनी बड़ी गलती. ये तो सरकार को जवाब देना है कि ये कौन लोग हैं. ये निजी दौरे पर आए हैं. किसी एनजीओ ने बुलाया है, ये एनजीओ कौनसा है?'

टिप्पणियां

सवालों के घेरे में यूरोपियन यूनियन के 27 सांसदों का कश्मीर दौरा, किसने की है फंडिंग?

VIDEO: मुसलमानों से नफरत करने वालों को मोदी सरकार ने बुलाया : ओवैसी



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... दिल्ली तो बस एक नई प्रयोगशाला है

Advertisement