NDTV Khabar

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने होवित्जर तोप को लेकर किया ऐसा ट्वीट कि कांग्रेस ने ले ली मौज

PM Narendra Modi ने गुजरात के हजीरा में होवित्जर तोप(Howitzer) में बैठकर उसका निरीक्षण किया. इसके बाद उन्होंने एक ऐसा ट्वीट किया, जिसको लेकर कांग्रेस(Congress) ने उनकी मौज ले ली.

16.1K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने होवित्जर तोप को लेकर किया ऐसा ट्वीट कि कांग्रेस ने ले ली मौज

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात के हजीरा में होवित्जर तोपों का निरीक्षण किया.

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने गुजरात के हजीरा में होवित्जर तोप (Howitzer) में बैठकर उसका निरीक्षण किया. इसके बाद उन्होंने एक ऐसा ट्वीट किया, जिसको लेकर कांग्रेस(Congress) ने उनकी मौज ले ली. दरअसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर लिखा-हजीरा में एल एंड टी के टैंकों की जांच करते हुए.  इस पर कांग्रेस ने रिट्वीट करते हुए कहा- प्रिय प्रधानमंत्री जी, यह टैंक नहीं है, यह होवित्जर है. उम्मीद है कि आप गलती से राफेल की जगह बाई-प्लेन नहीं खरीदेंगे. बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को सूरत के हजीरा में लार्सन एंड टूब्रो (एल एंड टी) की होवित्जर तोप निर्माण इकाई का उद्घाटन किया है. यह होवित्जर तोप लार्सन एंड टर्बो ने बनाई है. भारत की यह पहली निजी निर्माण इकाई होगी जहां स्व-चालित के9 वज्र होवित्जर तोपों का निर्माण किया जाएगा.

qivpqmd

पीएम नरेंद्र मोदी के ट्वीट पर कांग्रेस ने ऐसे साधा निशाना.

‘एल एंड टी' ने 2017 में ‘मेक इन इंडिया' पहल के तहत भारतीय सेना को के9 वज्र-टी 155 मिलिमीटर ‘ट्रैक्ड सेल्फ प्रोपेल्ड' तोप प्रणालियों की 100 इकाइयों की आपूर्ति करने के लिए 4,500 करोड़ रुपये का अनुबंध हासिल किया था.   कंपनी ने इन तोपों के निर्माण के लिए सूरत से करीब 30 किलोमीटर दूर अपने हजीरा स्थित केंद्र में आर्मर्ड सिस्टम्स कॉम्प्लेक्स स्थापित किया है, जहां स्व-चालित आर्टिलरी होवित्जर, भविष्य में पैदल सेना से लड़ने वाले वाहनों, भविष्य के लिए तैयार लड़ाकू वाहनों और भविष्य के मुख्य युद्धक टैंकों जैसे उन्नत बख्तरबंद वाहनों का निर्माण किया जाएगा.   विनिर्माण परिसर ‘के9 वज्र-टी 155 मिमी / 52-कैलिबर ट्रैक्ड सेल्फ-प्रोपेल्ड होवित्जर गन' कार्यक्रम को पूर्ण कर रहा है. ‘के9 वज्र' अनुबंध में 42 महीनों के अंदर ऐसी 100 प्रणालियों की आपूर्ति शामिल है. यह रक्षा मंत्रालय द्वारा एक निजी कंपनी को दिया गया सबसे बड़ा अनुबंध है. रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण भी शनिवार को इस उद्घाटन समारोह में मौजूद थीं. 


टिप्पणियां

वीडियो- सवालों के जवाब नहीं देंगे तो सुनना पड़ेगा कि चौकीदार चोर है : शत्रुघ्‍न सिन्‍हा 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement