NDTV Khabar

संसद के शीतकालीन सत्र में देरी होने की अटकलों के बीच कांग्रेस ने कहा- यह तुगलकी फैसला

कांग्रेस ने यह भी भरोसा जताया है कि गुजरात में पार्टी के पक्ष में ‘‘आश्चर्यजनक परिणाम’’ आयेंगे जहां भाजपा दो दशक से अधिक समय से सत्ता में है.

721 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
संसद के शीतकालीन सत्र में देरी होने की अटकलों के बीच कांग्रेस ने कहा- यह तुगलकी फैसला
नई दिल्ली: गुजरात विधानसभा  चुनावों के कारण संसद के शीतकालीन सत्र में विलंब होने संबंधी मीडिया रिपोर्ट की अटकलों पर विपक्षी कांग्रेस ने भाजपा की अगुवाई वाली केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा है कि यह ‘तुगलकी निर्णय’ है. कांग्रेस ने यह भी भरोसा जताया है कि गुजरात में पार्टी के पक्ष में ‘‘आश्चर्यजनक परिणाम’’ आयेंगे जहां भाजपा दो दशक से अधिक समय से सत्ता में है.

सत्ता में बैठे लोगों ने मजाक उड़ाया, अब लोगों ने राहुल को स्वीकार करना शुरू किया : शरद पवार

कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने संवाददाताओं को बताया, ‘‘क्या आप पहली बार गुजरात में चुनाव करवा रहे हैं. अचनाक गुजरात चुनाव सरकार के लिए इतना महत्वपूर्ण क्यों हो गया. यह पूर्ण रूप से तुगलकी निर्णय है.’’ सिंघवी ने कहा कि संसद सत्र के दौरान राष्ट्रीय महत्व के मुद्दों पर चर्चा होती है. उन्होंने पूछा कि अगर इसमें देरी होती है तो किसे फायदा मिलेगा.
वीडियो : 
कांग्रेस नेता ने कहा कि संसद सत्र में अगर देरी होती है तो निश्चित तौर पर इसका फायदा भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के बेटे शौर्य को को मिलेगा क्योंकि विपक्ष इन मसलों को संभवत: संसद में उठाएगा. उल्लेखनीय है कि कथित रूप से अनियमितताओं की खबरों के बाद जय और शौर्य विपक्षी दलों के निशाने पर हैं. उन्होंने कहा, ‘‘इस सत्र में राष्ट्रीय महत्व के मुद्दों पर चर्चा होगी. ( सत्र में देरी ) से उनलोगों को फायदा होगा जो चर्चा करना नहीं चाहते हैं.’’ कांग्रेस प्रवक्ता ने आश्चर्य जताया कि यह किस प्रकार का ‘‘नया माडल’’ है जहां संसद सत्र देर से बुलाया जा रहा है. सिंघवी ने चिंता जतायी कि यह ‘‘माडल’’ किसी राज्य में चुनाव के कारण संसद में देरी करने की एक नजीर बनेगा. 
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement