NDTV Khabar

कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक खत्म, महाराष्ट्र कांग्रेस के नेताओं से बैठक के बाद होगा समर्थन पर फैसला

मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि सुबह दस बजे से चली इस बैठक में सही पहलुओं पर बात की गई है. लेकिन कोई फैसला लेने में अभी समय है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक खत्म, महाराष्ट्र कांग्रेस के नेताओं से बैठक के बाद होगा समर्थन पर फैसला

CWC की बैठक खत्म, चार बजे के बाद हो सकता है बड़ा ऐलान

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ सरकार बनाने को लेकर कांग्रेस ने पार्टी वर्किंग कमेटी (CWC) की बैठक अब खत्म हो गई है. बैठक से निकलने के बाद पार्टी के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि सुबह दस बजे से चली इस बैठक में सही पहलुओं पर बात की गई है. आखिर में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने यह तय किया है कि हम महाराष्ट्र कांग्रेस के नेताओं के साथ बैठक करने के बाद ही किसी फैसले पर पहुंचेंगे. उन्होंने बताया कि पार्टी ने महाराष्ट्र कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं को शाम चार बजे बैठक के लिए बुलाया है. 

NDA से Shiv Sena के  अलग होने पर बिहार के सीएम नीतीश कुमार का आया बयान, कहा- हमको तो...

बता दें कि महाराष्ट्र में BJP सरकार नहीं बनाएगी यह अब साफ हो गया है. ऐसे में अब सभी की निगाहें Shiv Sena-Congress और NCP की तरफ हैं. NCP प्रमुख शरद पवार ने Shiv Sena के साथ सरकार बनाने की संभावनाओं को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि हम सरकार बनाने को लेकर कोई भी फैसला कांग्रेस से बात किए बगैर नहीं करने जा रहे हैं. उधर, कांग्रेस पार्टी ने महाराष्ट्र के मौजूदा राजनीतिक हालात को लेकर CWC की बैठक बुलाई है. इस बैठक में पार्टी शिवसेना को समर्थन को लेकर पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से चर्चा करने के बाद ही कोई फैसला लेगी. 


अगर BJP,पीडीपी से हाथ मिला सकती है तो शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के साथ क्यों नहीं : संजय राउत

इन सब के बीच, केंद्र की मोदी सरकार में शामिल शिवसेना के इकलौते मंत्री अरविंद सावंत ने इस्तीफे का ऐलान किया है. ट्विटर पर इस्तीफे के फैसले की जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि शिवसेना का पक्ष सच्चाई है. झूठे माहौल के साथ नहीं रहा सकता है. अरविंद सावंत ने कहा कि 11 बजे इस पर प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे. यह फैसला ऐसे में उन्होंने किया है जब महाराष्ट्र में शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी की सरकार बनाने की खबरें हैं. अरविंद सावंत के इस्तीफे के ऐलान के साथ ही तय हो गया है कि शिवसेना एनडीए से बाहर हो गई है.

शिवसेना और बीजेपी की दोस्ती 30 साल पुरानी थी. माना जा रहा है कि एनसीपी ने महाराष्ट्र में साथ सरकार बनाने के लिए शिवसेना के सामने शर्त रखी थी कि उसे पहले एनडीए से नाता तोड़ना होगा. हालांकि महाराष्ट्र में शिवसेना और एनसीपी को सरकार बनाने के लिए कांग्रेस के भी समर्थन जरूरत पड़ेगी. लेकिन कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा है कि आज 10 बजे मीटिंग होने वाली है और उसमें आलाकमान के निर्देश के मुताबिक फैसला लिया जाएगा. लेकिन उसके साथ ही उन्होंने कहा कि अभी तक का जो फैसला है कि हमें विपक्ष में ही बैठना चाहिए. 

महाराष्ट्र पर बोले कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे- अभी तक का फैसला हमें विपक्ष में बैठना चाहिए, बैठक 10 बजे

आपको बता दें कि महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव मे बीजेपी को 105, शिवसेना को 56, एनसीपी को 54 और कांग्रेस को 44 सीटें मिली हैं. बीजेपी और शिवसेना ने मिलकर बहुमत का 145 का आंकड़ा पार कर लिया था. लेकिन शिवसेना ने 50-50 फॉर्मूले की मांग रख दी जिसके मुताबिक ढाई-ढाई साल सरकार चलाने का मॉडल था. शिवसेना का कहना है कि बीजेपी के साथ समझौता इसी फॉर्मूले पर हुआ था लेकिन बीजेपी का दावा है कि ऐसा कोई समझौता नहीं हुआ. इसी लेकर मतभेद इतना बढ़ा कि दोनों पार्टियों की 30 साल पुरानी दोस्ती टूट गई.

टिप्पणियां

VIDEO: महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर राउत का बयान.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement