Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

लोकसभा चुनाव में हार के बाद कांग्रेस के लिए अच्छी खबर, कर्नाटक के निकाय चुनाव में जीतीं सबसे ज्यादा सीटें

लोकसभा चुनावों में करारी हार के बाद भले ही कांग्रेस के अंदर उथल-पुथल मची हो और पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी इस्तीफा देने की बात पर अड़े हों, लेकिन कांग्रेस के लिए कर्नाटक से अच्छी खबर है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
लोकसभा चुनाव में हार के बाद कांग्रेस के लिए अच्छी खबर, कर्नाटक के निकाय चुनाव में जीतीं सबसे ज्यादा सीटें

प्रतीकात्मक तस्वीर.

नई दिल्ली :

लोकसभा चुनावों में करारी हार के बाद भले ही कांग्रेस के अंदर उथल-पुथल मची हो और पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी इस्तीफा देने की बात पर अड़े हों, लेकिन कांग्रेस के लिए कर्नाटक से अच्छी खबर है. पार्टी ने राज्य में हुए स्थानीय निकाय चुनाव में शुक्रवार को सबसे अधिक सीटें जीतीं. राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार 56 शहरी स्थानीय निकायों में कुल 1,221 वार्डों में से कांग्रेस ने 509 वार्डों में जीत हासिल की जबकि भाजपा को 366 स्थानों पर जीत मिली. अकेले चुनाव लड़ने वाली जद-एस को 174 वार्डों में जीत मिली. 160 वार्डों में निर्दलीय उम्मीदवार विजयी हुए जबकि बसपा को तीन, माकपा को दो और अन्य दलों को सात सीटें मिलीं. सात नगर परिषदों के 217 वार्डों, 30 नगरपालिका परिषदों के 714 वार्डों और 19 नगर पंचायतों के 290 वार्डों के परिणाम घोषित किए गए. 

कांग्रेस में उथल-पुथल के बीच अहमद पटेल से मिले मल्लिकार्जुन खड़गे, अटकलें शुरू


टिप्पणियां

कांग्रेस ने नगर परिषदों में 90 वार्ड जीते, जबकि भाजपा और जद-एस ने क्रमशः 56 और 38 वार्ड जीते. कांग्रेस ने 30 नगरपालिका परिषदों के 714 वार्डों में से 322 में जीत हासिल की. भाजपा ने 184 और जद-एस ने 102 सीटें जीतीं. आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव में हार के बाद कांग्रेस के अंदर उथल-पुथल और मंथन का दौर जारी है. चुनावों में हार के बाद पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी इस्तीफा देने की बात पर अड़े हैं. इस बीच राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रमुख शरद पवार और जद-एस नेता व कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी ने शुक्रवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से उनके आवास पर जाकर मुलाकात की थी और कहा कि लोकसभा चुनाव में हार के कारण पार्टी का अपना पद न छोड़ें. (इनपुट- भाषा से भी)

Video: कांग्रेस को मिलेगा नया अध्यक्ष?



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... Delhi Violence: घायल एसीपी की आपबीती, क्या हुआ था उस दिन जब हिंसक भीड़ ने घेरा...

Advertisement