NDTV Khabar

लोकसभा चुनाव में BJP को शिकस्त देने के लिए कांग्रेस ने बनाई यह रणनीति...

2019 में होने वाले चुनाव में बीजेपी को टक्कर देने के लिए राहुल गांधी ने 9 सदस्यीय कोर ग्रुप समिति, 19 सदस्यीय घोषणापत्र समिति और 13 सदस्यीय प्रचार समिति का गठन किया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
लोकसभा चुनाव में BJP को शिकस्त देने के लिए कांग्रेस ने बनाई यह रणनीति...

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव में बीजेपी को टक्कर देने की तैयारी शुरू कर दी है.

खास बातें

  1. कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव की तैयारी शुरू कर दी
  2. राहुल गांधी ने 9 सदस्यीय कोर ग्रुप समिति बनाई
  3. 19 सदस्यीय घोषणापत्र समिति, 13 सदस्यीय प्रचार समिति भी बनाई
नई दिल्ली:

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है. 2019 में होने वाले चुनाव में बीजेपी को टक्कर देने के लिए राहुल गांधी ने 9 सदस्यीय कोर ग्रुप समिति, 19 सदस्यीय घोषणापत्र समिति और 13 सदस्यीय प्रचार समिति का गठन किया है. पार्टी के संगठन महासचिव अशोक गहलोत ने बताया कि 9 सदस्यीय कोर ग्रुप समिति में एके एंटनी, गुलाम नबी आजाद, पी चिदंबरम, अशोक गहलोत, मल्लिकार्जुन खड़गे, अहमद पटेल, जयराम रमेश, रणदीप सुरजेवाला और केसी वेणुगोपाल शामिल हैं.

टिप्पणियां

यह भी पढ़ें : 2019 में गठबंधन को लेकर राहुल गांधी का बड़ा बयान, कहा- विपक्ष एकजुट हुआ तो बीजेपी का होगा ये हश्र
 

 

यह भी पढ़ें : लंदन में राहुल गांधी ने बताया, 2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को मिली हार की यह थी बड़ी वजह

 

qpvgalno


घोषणापत्र समिति में पी. चिदंबरम, महिला कांग्रेस की अध्यक्ष सुष्मिता देव, हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा और जयराम रमेश सहित 19 नेतओं को जगह दी गई है. कांग्रेस की प्रचार समिति में भक्त चरण दास, मिलिंद देवड़ा, रणदीप सुरजेवाला और मनीष तिवारी सहित 13 नेताओं को शामिल किया गया है. 


VIDEO : क्या ढलान पर है बीजेपी?


बता दें कि एक दिन पहले ही लंदन में एक कार्यक्रम में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने विपक्षी दलों के गठबंधन को लेकर चल रही चर्चा के बीच बड़ा बयान दिया था. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि 2019 में होने वाले लोकसभा चुनावों उत्तर प्रदेश में विपक्षी खेमा एकजुट होकर चुनाव लड़े तो बीजेपी को 5 सीटें भी नहीं मिलेंगी.  आपको बता दें कि पिछले दिनों ही बसपा प्रमुख मायावती ने भी गठबंधन को लेकर बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि उनकी पार्टी उसी सूरत में गठबंधन सरकार में शामिल होगी, जब उन्हें लोकसभा सीटों की सम्मानजनक संख्या दी जाएगी.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement