ED ने वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता अहमद पटेल से चौथी बार की पूछताछ

इससे पहले पटेल (70) से इस मामले में दो जुलाई को करीब 10 घंटे तक पूछताछ की गई थी. उन्होंने संवाददाताओं को बताया था कि ईडी के जांचकर्ताओं ने तीन सत्रों में उनसे 128 प्रश्न पूछे हैं. 

ED ने वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता अहमद पटेल से चौथी बार की पूछताछ

अहमद पटेल से उनके आवास पर पूछताछ की गई

नई दिल्ली:

प्रवर्तन निदेशालय (ED) के अधिकारियों ने संदेसरा बंधु बैंक धोखाधड़ी एवं धन शोधन (मनी लांड्रिंग) मामले में गुरुवार सुबह वरिष्ठ कांग्रेस नेता अहमद पटेल से उनके आधिकारिक आवास पर चौथे दौर की पूछताछ की. अधिकारियों के अनुसार, ईडी का तीन सदस्यीय दल राज्यसभा सांसद के 23, मदर टेरेसा क्रीसेंट आवास पर सुबह करीब 11 बजे पहुंचा. इससे पहले पटेल (70) से इस मामले में दो जुलाई को करीब 10 घंटे तक पूछताछ की गई थी. उन्होंने संवाददाताओं को बताया था कि ईडी के जांचकर्ताओं ने तीन सत्रों में उनसे 128 प्रश्न पूछे हैं. 


पटेल ने तब कहा था, ‘‘यह मेरे और मेरे परिवार के खिलाफ राजनीतिक प्रतिशोध और उत्पीड़न है.मुझे नहीं पता कि किसके दबाव में वे (जांचकर्ता) काम कर रहे हैं.''अब तक कांग्रेस कोषाध्यक्ष से 27 जून, 30 जून और दो जुलाई को हुए सत्रों में ईडी 27 घंटे तक पूछताछ कर चुकी है. पटेल ने कोरोना वायरस संक्रमण के कारण वरिष्ठ नागरिकों के बाहर नहीं निकलने के दिशा-निर्देश का हवाला देते हुए ईडी कार्यालय जाने से मना किया था जिसके बाद उनसे घर में पूछताछ की इजाजत दी गई. अधिकारियों ने बताया कि कांग्रेस नेता के बयान प्रिवेंशन ऑफ मनी लांड्रिंग केस (PMLA)के तहत दर्ज किए जा रहे हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अहमद पटेल से वडोदरा की कंपनी स्टर्लिंग बायोटेक फार्मास्यूटिकल कंपनी के प्रमोटर संदेसरा बंधुओं से कथित संबंधों के बारे में और नेता के परिजन के उनके साथ कथित लेन देन के बारे में पूछताछ की जा रही है. एजेंसी ने पटेल के पुत्र फैसल और दामाद इरफान अहमद सिद्दीकी से इस संबंध में पिछले साल पूछताछ की थी और उनके बयान दर्ज किए थे. इन दोनों से संदेसरा समूह के एक कर्मचारी सुनील यादव के बयान के संदर्भ में पूछताछ की गई जिसने एजेंसी के समक्ष अपने बयान दर्ज कराए थे. सूत्रों ने बताया कि ईडी को दिए अपने बयान में यादव ने कहा कि उसने स्टर्लिंग बायोटेक के प्रमोटरों में से एक, चेतन संदेसरा के निर्देशों पर एक पार्टी के लिए ‘‘10 लाख रुपये का खर्च ''वहन किया था जिसमें फैसल ने भाग लिया था. फैसल के लिए एक नाइट क्लब में प्रवेश की ‘‘व्यवस्था'' की और एक बार उनके ड्राइवर को दिल्ली के खान मार्केट में ‘‘पांच लाख रुपए'' दिए थे. सूत्रों ने बताया कि यादव ने एजेंसी से कहा कि यह नकदी ‘‘फैसल पटेल के लिए थी.''



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)