Yes बैंक संकट पर कांग्रेस नेता चिदंबरम ने केंद्र पर साधा निशाना, 'वित्तीय संस्थानों को नियंत्रित करने में सक्षम नहीं सरकार'

पूर्व वित्त मंत्री चिदंबरम ने दावा किया, ‘‘बीजेपी 6 साल से सत्ता में है. वित्तीय संस्थानों को नियंत्रित और विनियमित करने की उनकी क्षमता उजागर होती जा रही है.’’

Yes बैंक संकट पर कांग्रेस नेता चिदंबरम ने केंद्र पर साधा निशाना, 'वित्तीय संस्थानों को नियंत्रित करने में सक्षम नहीं सरकार'

यस बैंक संकट के बहाने पी. चिदंबरम ने मोदी सरकार पर निशाना साधा है.

खास बातें

  • यस बैंक संकट को लेकर पी चिदंबरम ने मोदी सरकार को घेरा
  • यस बैंक में 50 हजार से ज्यादा की निकासी पर रोक
  • चिदंबरम ने कहा कि केंद्र वित्तीय संस्थानों पर नियंत्रण रख पाने में अक्षम
नई दिल्ली :

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम ने Yes बैंक के मामले को लेकर शुक्रवार को सरकार पर निशाना साधा और दावा किया कि यह वित्तीय संस्थानों को नियंत्रित एवं विनियमित करने की सरकार की क्षमता को दिखाता है. पूर्व वित्त मंत्री चिदंबरम ने दावा किया, ‘‘बीजेपी 6 साल से सत्ता में है. वित्तीय संस्थानों को नियंत्रित और विनियमित करने की उनकी क्षमता उजागर होती जा रही है.'' उन्होंने सवाल किया, ‘‘पहले पीएमसी बैंक, अब Yes बैंक. क्या सरकार बिल्कुल भी चिंतित नहीं है? क्या वो अपनी जिम्मेदारी से बच सकते हैं? क्या अब कतार में कोई तीसरा बैंक है?'' गौरतलब है कि रिजर्व बैंक ने गुरुवार को सरकार से मशवरा करने के बाद Yes बैंक पर रोक लगाई और उसके निदेशक मंडल को भी भंग कर दिया है.

YES Bank संकट: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने डिपॉजिटर्स से कहा, आपका पैसा सुरक्षित, नहीं होगा कोई नुकसान

वहीं बैंक के ग्राहकों पर भी 50,000 रुपये मासिक तक निकासी करने की रोक लगायी है. Yes बैंक किसी भी तरह के नए ऋण का वितरण या निवेश भी नहीं कर सकेगा. Yes बैंक संकट को लेकर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को कहा, "मैं भरोसा दिलाना चाहती हूं कि Yes बैंक के हर जमाकर्ता का धन सुरक्षित है. रिजर्व बैंक ने मुझे भरोसा दिलाया है कि Yes बैंक के किसी भी ग्राहक को कोई नुकसान नहीं होगा .

सीतारमण ने कहा कि Yes बैंक के मुद्दे को रिजर्व बैंक और सरकार विस्तृत तौर पर देख रहे हैं, हमने वह रास्ता अपनाया है जो सबके हित में होगा. रिजर्व बैंक एक नियामक के तौर पर येस बैंक के मुद्दे का तेजी से समाधान करने की दिशा में काम कर रहा है, यह कदम जमाकर्ताओं, बैंक और अर्थव्यवस्था के हित में उठाए गए हैं.

Yes बैंक संकट को लेकर राहुल गांधी का निशाना- PM मोदी और उनके विचारों ने किया अर्थव्यवस्था को तबाह

वित्तमंत्री ने कहा कि Yes बैंक के ग्राहकों के लिए 50,000 रुपये की सीमा में पैसा निकालना सुनिश्चित करना सबसे पहली प्राथमिकता है.

Video: आरबीआई ने येस बैंक पर योजना बनाई: निर्मला सीतारमण

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com