NDTV Khabar

कांग्रेस से विधायक रहे प्रह्लाद सिंह साहनी ने थामा AAP का हाथ, कहा- चुनाव लड़ने के लिए नहीं हुआ शामिल

आम आदमी पार्टी में प्रह्लाद साहनी (Prahlad Singh Sahni) का स्वागत करते हुए केजरीवाल ने कहा कि उन्हें बेहद खुशी है कि वह अपनी टीम के साथ आप में शामिल हो गये हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कांग्रेस से विधायक रहे प्रह्लाद सिंह साहनी ने थामा AAP का हाथ, कहा- चुनाव लड़ने के लिए नहीं हुआ शामिल

प्रह्लाद सिंह साहनी (Prahlad Singh Sahni) 1998 से 2015 तक चांदनी चौक से विधायक रहे हैं.

नई दिल्ली:

कांग्रेस (Congress) छोड़ दूसरी पार्टियों में नेताओं के जाने का सिलसिला थम नहीं रहा है. अब दिल्ली में कभी कांग्रेस (Congress) से चार बार विधायक रह चुके प्रह्लाद सिंह साहनी (Prahlad Singh Sahni) का भी उनकी पार्टी से मोहभंग हो गया और उन्होंने आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi  party) का दामन थाम लिया. रविवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvinfd Kejriwal) की मौजूदगी में प्रह्लाद आम आदमी पार्टी में शामिल हो गए. इस मौके पर 68 वर्षीय साहनी (Prahlad Singh Sahni)  ने कहा कि वह आम आदमी पार्टी (आप) के कार्य से प्रभावित हुए हैं और वह जहां भी जाते हैं उन्हें ‘आप' द्वारा किये गये विकास के कार्य सुनने को मिलते हैं.  उन्होंने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव लड़ने के लिये टिकट पाने के मकसद से वह पार्टी में शामिल नहीं हो रहे हैं, बल्कि दिल्ली के विकास की दिशा में काम करने के इरादे से पार्टी में शामिल हो रहे हैं. 

उर्मिला मातोंडकर के बाद महाराष्ट्र में कांग्रेस को दूसरा झटका, अब इस नेता ने पार्टी से दिया इस्तीफा


पार्टी में साहनी का स्वागत करते हुए केजरीवाल ने कहा कि उन्हें बेहद खुशी है कि वह अपनी टीम के साथ आप में शामिल हो गये हैं. उन्होंने कहा, ‘‘आम आदमी पार्टी की शुरुआत एक आंदोलन के तौर पर हुई थी और ऐसा भी वक्त था जब सत्ता आने पर पार्टियां अपना विजन खो देती हैं लेकिन ‘आप' के साथ ऐसा नहीं है. सत्ता में आने के बाद से हमने क्रांतिकारी कार्य किए हैं.''
 

प्रह्लाद साहनी 1998 से 2015 तक चांदनी चौक से विधायक रहे और दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के करीबी सहयोगी रह चुके हैं. वर्ष 2015 के विधानसभा चुनाव में उन्हें ‘आप' उम्मीदवार अलका लांबा ने हराया था.

टिप्पणियां

कांग्रेस से इस्तीफा देने के बाद बोले अशोक तंवर, इस चुनाव में सबकी अकड़ निकालूंगा

बता दें इससे पहले शनिवार को हरियाणा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अशोक तंवर ने नाराज होकर पार्टी से इस्तीफा दे दिया. उन्होंने विधानसभा चुनाव को लेकर बांटे जा रहे टिकटों की खरीद-बिक्री का आरोप लगाया है. तंवर ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेजे त्यागपत्र में आरोप लगाया कि पार्टी को खत्म करने की साजिश रची जा रही है. (इनपुट-भाषा)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement