NDTV Khabar

UPPSC का पेपर लीक होने के बाद प्रियंका गांधी बोलीं, युवा ठगे जा रहे हैं और सरकार कमीशनखोरी में मस्त है

उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग (यूपीपीएससी) परीक्षा का पेपर लीक होने के बाद कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशाना साधा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
UPPSC का पेपर लीक होने के बाद प्रियंका गांधी बोलीं, युवा ठगे जा रहे हैं और सरकार कमीशनखोरी में मस्त है

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशाना साधा है.

नई दिल्ली :

उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग (यूपीपीएससी) परीक्षा का पेपर लीक होने के बाद कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशाना साधा है. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने सरकार पर शुक्रवार को निशाना साधा और आरोप लगाया कि युवा ठगे जा रहे हैं, लेकिन भाजपा सरकार कमीशनखेरों के हित साधने में मस्त है. उन्होंने ट्वीट किया, ‘यूपीपीएससी (उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग) के पेपर छापने का ठेका एक डिफाल्टर (चूककर्ता) को दिया गया. आयोग के कुछ अधिकारियों ने डिफाल्टर के साथ सांठ-गांठ करके पूरी परीक्षा को कमीशन-घूसखोरी की भेंट चढ़ा दिया'. प्रियंका ने दावा किया,‘सरकार की नाक के नीचे युवा ठगा जा रहा है, लेकिन उप्र सरकार डिफाल्टर और कमीशनखोरों का हित देखने में मस्त है'.  

आपको बता दें कि उप्र लोकसेवा आयोग (यूपीपीएससी) की भर्ती परीक्षाओं में धांधली उजागर होने से नाराज अभ्यर्थियों ने शुक्रवार को प्रदर्शन भी किया. हजारों प्रतियोगियों के जुटने से प्रयागराज-लखनऊ राजमार्ग जाम हो गया. पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए हल्का बल प्रयोग किया. इसके बाद छात्रों ने पुलिस पर पथराव कर दिया. प्रदर्शकारियों ने जमकर नारेबाजी की और नौकरी लौटाने की मांग वाली तख्तियां लहरा कर अपना विरोध दर्ज कराया. प्रदर्शनकारियों ने आयोग एवं प्रदेश सरकार का पुतला फूंका। इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्रसंघ भवन पर इकट्ठा छात्रों ने उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) की सीबीआई जांच कराए जाने की मांग की. 


टिप्पणियां

BSP नेता गर्लफ्रेंड को पास कराने के लिए लीक करा रहा था MBA के पेपर, बनाना चाहता था Topper

कई छात्र संगठनों ने सामूहिक रूप से उप्र लोक सेवा आयोग की कार्यशैली का विरोध जताया. छात्रों ने कहा कि आयोग के अफसर छात्र संगठनों से वार्ता करने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे हैं. छात्रों को रोकने के लिए बड़ी संख्या में पुलिस, फायर ब्रिगेड व अन्य टीमों को लगाना पड़ा. प्रदर्शनकारियों के ज्यादा बवाल करने पर प्रशासन ने उन्हें लाठी फटकार कर खदेड़ा, फिर भी न मानने पर पुलिस ने हल्का बल प्रयोग किया. प्रदर्शन के दौरान लोक सेवा आयोग के मुख्यद्वार पर 'चिलम सेवा आयोग' लिखते तीन समाजवादी कार्यकर्ता गिरफ्तार किए गए. गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की ओर से 29 जुलाई, 2018 को आयोजित एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती परीक्षा में धांधली किए जाने का मामला सामने आया था. भर्ती में पेपर आउट कराने के आरोप में परीक्षा नियंत्रक की गिरफ्तारी के बाद प्रतियोगी आयोग पर हमलावर हैं. (इनपुट- भाषा और  IANS)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... TikTok Viral: समुद्र से निकला इतना बड़ा 'सांप' कि इंसान दिखने लगे चींटी जैसे! 2 करोड़ से ज्यादा बार देखा गया Video

Advertisement