दिल्ली में 'जीरो' रहने पर बोले कांग्रेस नेता- हम पहले शून्य थे और अब भी शून्य, इसलिए हमारी नहीं BJP की हार है

कांग्रेस नेता एवं पंजाब के कैबिनेट मंत्री साधु सिंह धर्मसोत ने मंगलवार को कहा कि दिल्ली में उनकी पार्टी हारी नहीं है, क्योंकि उसकी सीटें 2015 की भांति ही शून्य बनी हुई हैं, दरअसल यह तो भाजपा की हार है.

दिल्ली में 'जीरो' रहने पर बोले कांग्रेस नेता- हम पहले शून्य थे और अब भी शून्य, इसलिए हमारी नहीं BJP की हार है

कांग्रेस नेता एवं पंजाब के कैबिनेट मंत्री साधु सिंह धर्मसोत का आया बयान- प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:

कांग्रेस नेता एवं पंजाब के कैबिनेट मंत्री साधु सिंह धर्मसोत ने मंगलवार को कहा कि दिल्ली में उनकी पार्टी हारी नहीं है, क्योंकि उसकी सीटें 2015 की भांति ही शून्य बनी हुई हैं, दरअसल यह तो भाजपा की हार है. उन्होंने दिल्ली विधानसभा चुनाव मतगणना के रुझानों का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘हम पहले शून्य थे, और अब भी शून्य हैं. इसलिए यह हमारी हार नहीं है. यह भाजपा की हार है.''

दिल्‍ली में AAP की हैट्रिक, नहीं चल पाया BJP का कोई भी 'पैंतरा'- कांग्रेस का फिर सूपड़ा साफ

मतगणना रुझान में दिल्ली चुनाव में कांग्रेस को एक भी सीट नहीं मिल रही है. कांग्रेस ने 2015 के दिल्ली विधानसभा चुनाव में भी एक भी सीट नहीं जीती थी. इस बीच, पंजाब विधानसभा में विपक्ष के नेता हरपाल सिंह चीमा ने दिल्ली विधानसभा चुनाव में आप के प्रदर्शन को ‘‘नफरत और गंदी राजनीति पर विकास के एजेंडे की जीत'' करार दिया.

Election Results 2020: PM मोदी ने दी जीत की बधाई तो अरविंद केजरीवाल ने दिया यह Reaction

आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब की 117 सदस्यीय विधानसभा में 19 विधायकों के साथ दूसरी सबसे बड़ी पार्टी है. चीमा ने ट्वीट किया, ‘‘आम आदमी पार्टी के पक्ष में इस भारी जनादेश के लिए पार्टी कार्यकर्ताओं और दिल्ली के लोगों को बधाई. यह नफरत और गंदी राजनीति पर विकास के एजेंडे की जीत है.''

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com