Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

रविशंकर प्रसाद ने 'हत्यारोपी' बताया तो शशि थरूर ने भेजा कानूनी नोटिस, बोले- 48 घंटे के भीतर माफी मांगें, वरना

अक्सर विपक्ष पर हमलावर रहने वाले केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद इस बार अपने बयान के लिए बैकफुट पर आ गये हैं

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रविशंकर प्रसाद ने 'हत्यारोपी' बताया तो शशि थरूर ने भेजा कानूनी नोटिस, बोले- 48 घंटे के भीतर माफी मांगें, वरना

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

अक्सर विपक्ष पर हमलावर रहने वाले केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद इस बार अपने बयान के लिए बैकफुट पर आ गये हैं. कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद को कानूनी नोटिस भेजकर उन्हें 'हत्यारोपी' बताने के लिए बिना शर्त माफी मांगने को कहा है. शशि थरूर की ओर से लॉ फर्म सूरज कृष्णा एंड एसोसिएट्स द्वारा भेजे गए कानूनी नोटिस में लिखा है-"आपको मालूम है कि शशि थरूर की दिवंगत पत्नी सुनंदा पुष्कर की मौत के सिलसिले में उनके खिलाफ चल रहे आपराधिक मुकदमे में अभियोजन पक्ष की ओर से उनके खिलाफ हत्या का अपराध करने का आरोप नहीं है और निचली अदालत ने उनके खिलाफ कोई आरोप दर्ज नहीं किया है."

शशि थरूर के बिच्छु वाले बयान पर प्रकाश जावड़ेकर का पलटवार, कहा- राजीव गांधी ने भी 1984 में की थी यह गलती


नोटिस में कहा गया है कि शशि थरूर के खिलाफ पुलिस के आरोप पत्र में भी हत्या का कोई आरोप दर्ज नहीं किया गया है. नोटिस में लिखा है-"आपका यह बयान कि शशि थरूर हत्या के गंभीर आरोप में आरोपित हैं, से आपकी कुछ परोक्ष मंशा जाहिर होती है."

शशि थरूर ने RSS के हवाले से कहा, "पीएम मोदी शिवलिंग पर बैठे बिच्छू जैसे", बीजेपी ने दी कड़ी प्रतिक्रिया

नोटिस में कहा गया है कि उपर्युक्त परिस्थितियों से जाहिर है कि आपने मानहानि का अपराध किया है, जिसके लिए आपके ऊपर अदालत में मुकदमा चलाया जा सकता है. नोटिस में प्रसाद के इस बयान वाली वीडियो क्लिप सोशल मीडिया से हटाने की मांग की गई.

रविशंकर प्रसाद के बयान के बाद शशि थरूर ने पूछा कि आखिर आप किस मर्डर की बात कर रहे हैं, क्या आप किसी और मर्डर थ्योरी की प्लानिंग कर रहे हैं मिस्टर लॉ मिनिस्टर.

पूर्व पीएम मनमोहन सिंह का हमला, PM मोदी 'असत्यवादी प्रधानमंत्री' हैं, उन्होंने लोगों का यकीन तोड़ा
टिप्पणियां

नोटिस में आगे लिखा है- "शशि थरूर पर ऐसा असत्य, मिथ्या व निराधार आरोप लगाने के लिए एतद द्वारा आपसे नोटिस मिलने के 48 घंटे के भीतर बिना शर्त व लिखित माफी मांगने को कहा जाता है." नोटिस में यह भी कहा गया है कि अगर वह माफी नहीं मांगते हैं तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी.  (इनपुट आईएएनएस से)

VIDEO: शशि थरूर का विवादित बयान, ‘पीएम शिवलिंग पर बैठे बिच्छू की तरह'



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... पति संग समुद्र में रोमांस करती नजर आईं बिग बॉस की एक्स कंटेस्टेंट, सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है Video

Advertisement