MP के कांग्रेस विधायक की 450 करोड़ रुपये की अघोषित कमाई मिली : आयकर विभाग

CBDT के अनुसार, बैतूल स्थित सोया प्रोडक्ट्स मैन्युफैक्चरिंग ग्रुप के बैतूल और सतना, महाराष्ट्र के सोलापुर, मुंबई और बंगाल के कोलकाता में एक साथ कार्रवाई की गई थी. इस दौरान 8 करोड़ रुपये नकद मिले थे. कंपनी इसकी जानकारी नहीं दे सकी.

MP के कांग्रेस विधायक की 450 करोड़ रुपये की अघोषित कमाई मिली : आयकर विभाग

CBDT ने कहा, शेल कंपनियों के जरिये करोड़ों का फर्जी लेनदेन किया गया (फाइल)

आयकर विभाग (Income Tax department) ने मध्य प्रदेश में बैतूल से कांग्रेस विधायक निलय डागा (Congress MLA Nilay Daga) के परिवार से जुड़े व्यावसायिक परिसरों पर छापा मारकर 450 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति बरामद करने का दावा किया है. 

बताया जा रहा है कि निलय और उनके परिवार ने 259 करोड़ रुपये सिर्फ अलग-अलग कंपनियों में शेयर निवेश से दर्शाया है. उनकी अघोषित संपत्तियों में बड़ी राशि शेल कंपनियों में निवेश के जरिये हासिल की गई है. केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) के अनुसार, बैतूल स्थित सोया प्रोडक्ट्स मैन्युफैक्चरिंग ग्रुप के बैतूल और सतना, महाराष्ट्र के सोलापुर, मुंबई और बंगाल के कोलकाता में एक साथ कार्रवाई की गई थी. इस दौरान 8 करोड़ रुपये नकद मिले थे. कंपनी इसकी जानकारी नहीं दे सकी.


सीबीडीटी के अनुसार, "कोई भी कंपनी दिए गए पते पर चालू नहीं पाई गई. समूह ऐसी कागजी कंपनियों या इसके किसी भी निदेशक की पहचान की पुष्टि नहीं कर सका. कई कागजी कंपनियों को कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय ने बंद पाया था. समूह ने गलत दावा किया कि समूह इकाई के शेयरों की बिक्री पर 27 करोड़ रुपये से अधिक की लंबी अवधि की पूंजीगत लाभ की छूट है. जांच में पता चला है कि इन शेयरों की खरीद वास्तविक नहीं थी, क्योंकि समूह के निदेशकों ने नाममात्र मूल्य पर शेयर खरीदे थे. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


आयकर विभाग के सूत्रों के मुताबिक, निलय डागा और उनके भाई कोलकाता की 24 कंपनियों से फर्जी लेनदेन कर रहे थे. इसका मुख्य उद्देश्य टैक्स चोरी था. सैकड़ों ऐसे दस्तावेज आयकर टीम को मिले हैं, जिनसे साबित होता है कि डागा बंधुओं ने इन कंपनियों से करीब 100 करोड़ रुपये तक के लेनदेन किए.